चीन के इस लैब से निकला कोरोना वायरस? दुनियाभर में मचा हाहाकार

2856

चीन से शुरू हुआ कोरोना वायरस जिसने पूरे विश्व में एक खौफ पैदा कर दिया है और लोगो के अंदर एक डर सा बैठ गया है कोरोना वायरस को लेकर. हर दिन ‘नॉवल कोरोना वायरस (कोविड-19)’ से संक्रमित लोगों की संख्या दिन पर दिन बढती जा रही है. लोगों का मानना है कि इस खतरनाक वायरस की शुरुआत चीन के हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान को कोरोरना वायरस बीमारी का केंद्र माना गया है. लेकिन, अब चीनी वैज्ञानिकों का मानना है कि हो सकता है कोरोना वायरस की शुरुआत वुहान के फिश मार्केट से कुछ दूर स्थित एक सरकारी रिसर्च लैब से हुई हो.

चीन की सरकारी साउथ चाइना यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नॉलजी के मुताबिक, हुबेई प्रांत में वुहान सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल (WHDC) ने रोग फैलाने वाली इस बीमारी के वायरस को जन्म दिया है. ‘स्कॉलर बोताओ शाओ और ली शाओ का दावा है कि WHCDC ने लैब में ऐसे जानवरों को रखा जिनसे बीमारियां फैल सकती हैं, इनमें 605 चमगादड़ भी शामिल थे.’ उनके मुताबिक, ‘हो सकता है की कोरोना वायरस की शुरुआत यहीं से हुई हो.’ इसके अलावा इनके रिसर्च पेपर में यह भी कहा गया है कि कोरोना वायरस के लिए जिम्मेदार चमगादड़ों ने एक बार एक रिसर्चर पर हमला कर दिया और चमगादड़ का खून उसकी स्किन में मिल गया था.’ कुछ लोगों का कहना है की कोरोना वायरस जो फैला है उसकी एक वजह ये भी मानी जा रही है कि वो समुद्री जानवरों को खाने से भिओ होता है क्योकि चीनमें लोग इस तरह के जानवर का ज्यादा मात्र में प्रयोद करते है.

एक रिपोर्ट में कहा गया है, ‘रोगियों में मिले जीनोम सीक्वेंस 96 या 89 फीसदी थे जो बैट CoC ZC45 कोरोना वायरस के समान हैं लेकिन ये मूल रूप से राइनोफस एफिनिस में पाए जाते हैं.’ रिपोर्ट में बताया गया है कि यहां मौजूद देसी चमगादड़ वुहान के सीफूड मार्केट से करीब 600 मील दूर से आये है.  इसके अलावा, स्थानीय लोगों को चमगादड़ खाने की सलाह बहुत कम दी जाती है। 31 निवासियों और 28 विजिटर्स ने इस बारे में गवाही भी दी है.

इस बिमारी से पूरे विश्व में अभी तक कुल 69000 लोगों कग मौत हो चुकी है. चीन में मऔत का आंकड़ा 1665 तक पहुंच चुका है. सबसे ज्यादा मौते हुबेई प्रांत में हुई है. जो इस बिमारी का केंद्र माना जा रहा है. अभी भी इस बिमारी को लेकर किसी तरह की तस्वीर साफ होते नही दिख रही है और ना कोई इलाज या दवाई जिसके खाने के बाद इंसान के अंदर कोरोना वायरस खत्म हो जाये.