मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने सेना पर दिया विवादित बयान

342

कांग्रेस समर्थित कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी आए दिन विवादित बयान देते रहते है..और इसी वजह से वो चर्चा में बने रहते है..कभी किसी राजनेता पर तो कभी किसी राजनीतिक पार्टी पर विवादित बयान देना उनकी आदतों में शुमार है..लेकिन अबकी बार तो हद हो गई कुमारस्वामी ने भारतीय सेना का अपमान करते हुए एक विवादित बयान दे डाला है..एचडी कुमारस्वामी ने कहा कि जिन लोगों के पास खाने के लिए नही होता वही डिफेंस ज्वाइन करते हैं..उन्‍होंने कर्नाटक के मद्दूरू में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि सेना के जो जवान हमारी सरहदों की रक्षा कर रहे हैं, वे अमीर परिवारों से नहीं, उन गरीब परिवारों से आते हैं जो दो वक्‍त के भोजन का खर्च नहीं वहन कर पाते..प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उनके बलिदान पर राजनीति कर रहे हैं..

कुमारस्वामी के इस बयान पर बीजेपी ने कड़ी आपत्ति जाहिर की है..कर्नाटक बीजेपी ने अपने ट्विटर हैंडल से ये वीडियो शेयर किया है, जिसमें कुमारस्वामी कन्नड़ भाषा में ये बातें बोलते हुए दिखाई दे रहे हैं। इस ट्वीट में कुमारस्वामी के बयान का जिक्र करते हुए लिखा गया है कि कुमारस्वामी ने जो सेना के लिए बयान दिया है, उन्हें इसके लिए शर्म आनी चाहिए। उन्हें पता होना चाहिए लोग देश प्रेम की वजह से सेना में जाते हैं। इसके साथ ही बीजेपी ने कुमारस्वामी से ये भी पूछा है कि, ‘वो अपने बेटे को लोकसभा चुनाव लड़वाने की बजाए क्यूं नहीं सेना में भेजते है..अगर वो ऐसा करेंगे तभी पता चलेगा कि सैनिक होने का क्या मतलब होता है..

वही, इसके बाद कुमारस्वामी ने एक ट्वीट के माध्यम से इस बात का खंडन करते हुए वीडियो से छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि बीजेपी उन्हें बदनाम करने के लिए पुराने ट्रिक्स आजमा रही है..
वही दूसरी तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कर्नाटक के सीएम एचडी कुमारस्वामी पर जोरदार हमला बोला है. पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि कर्नाटक के सीएम कहते हैं कि जिन्हें दो वक्त का खाना नहीं मिलता है वही सेना में जाते हैं. पीएम मोदी ने रैली में आए लोगों से कहा कि क्या ये हमारे वीर सैनिकों और सुरक्षा बलों का अपमान नहीं है. पीएम ने कहा कि कुमारस्वामी जी ये कैसी सोच है आपकी, आप ये कहकर नहीं बच सकते कि आपके बयान का गलत मतलब निकाला गया, आपने वही कहा है, जो आपके दिल में है..

पीएम ने कहा कि जो सैनिक देश की सेवा के लिए जाते हैं, देश की रक्षा के लिए कुछ भी कर गुजरते है, रेगिस्तान में 50 डिग्री तापमान में जो जलते सूरज को झेलते हैं, महीनों तक समुद्र में तिरंगा लेकर दुश्मन को भटकने तक नहीं देते, उनके लिए ऐसे शब्द, ऐसी सोच…देश की सेना का अपमान करने वालों, डूब मरो. पीएम ने कहा कि देश के वीर सपूतों की तपस्या को ये कभी नहीं समझ सकते हैं…

बता दें कि पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान में घुसकर भारतीय सेना द्वारा किए गए एयर स्ट्राइक के बाद से ही कांग्रेस और तमाम विपक्षी दल लगातार बीजेपी पर सवाल खड़े कर रही है..इससे पहले भी सीएम कुमारस्‍वामी ने मोदी को तनाशाह बताते हुए अब तक का सबसे खराब प्रधानमंत्री करार दिया था..

गौरतलब है कि राज्य में मौजूदा समय में जेडीए-कांग्रेस की गठबंधन की सरकार है। राज्य में लोकसभा की 28 सीटों पर मतदान दो चरणों में संपन्न होगा। पहला चरण का चुनाव 18 अप्रैल को होगा जबकि दूसरे चरण के लिए वोट 23 अप्रैल को डाले जाएंगे।