कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए केंद्र और राज्य सरकारें अभूतपूर्व कदम उठा रहा है.केंद्र सरकार ने देश को बचाने के लिए पूरा प्रयास कर रही है. केद्र सरकार के अलावा राज्य सरकारें भी कोरोना वायरस के बचाव के लिए कई कड़े कदम उठा रही हैं. ताकि कोरोना को रोक लिया जाए उसे इसे ज्यादा आगे ने बढने दें. पीएम मोदी ने जनता कर्फ्यू का आग्रह किया है ताकि कोरोना से बचाव हो सकें.

कोरोना को देखते हुए देश भर में मेट्रों सेवाओं को 31 मार्च तक बंद करने का फैसला किया है. कोरोना वायरस के प्रकोप को बढ़ता देख रेलवे ने भी सभी ट्रेन कैंसिल करने का फैलसा किया है. केंद्र सरकार ने राज्यों की सरकार को सलाह दी है कि देश के 75 जिलों में लकडाउन की घोषणा कर दी जाये. ये 75 वो जिलें हैं जहां पर कोरोना वायरस के पॉजिटिव मरीज पाए गये हैंं. जिन जिलों मेंं कोरोना को लेकर मौतें हुई हैं, वहां पर भी लॉकडाउन करने के निर्देश दिये गये हैं.

वहीं दूसरी ओर कोरोना के बढते कहर को देखते हुए योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश के सभी जिलों को सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन रखने के निर्देश जारी कर दिये हैं. इसका मतलब ये हुआ कि लखनऊ में एक तरह से कल सुबह 6 बजे तक जनता कर्फ्यू लगा रहेगा.  योगी सरकार ने लखनऊ में सुबह 6 बजे तक लॉकडाउन करने के भी निर्देश जारी कर दियो है. लखनऊ के आलावा नोएड़ा को भी लॉकडाउन कर दिया गया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रात को 9:30 बजे एक मीटिंग कर रहे हैं जिसमें जनता कर्फ्यू के बारे में और फैसले कर सकते हैं.

दुनिया के 186 देश कोरोना वायरस की चपेट में हैं. इस खतरनाक संक्रमण का असर भारत में तेजी से बढ़ रहा है. देश में हालात बिगड़ने न पाएं, इसलिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनता कर्फ्यू लगाने का आग्रह किया. आप के द्वारा इस संबंध में दिए जा रहे योगदान से न केवल आप और आपका परिवार सुरक्षित रह सकता है बल्कि पूरे समाज, राष्ट्र को भी स्वस्थ व सुरक्षित रख सकते हैं.