बुराड़ी के भूतिया घर में रहने आया ये परिवार

6672

1 जुलाई 2018 को दिल्ली के बुराड़ी में एक शाम कुछ ऐसा हुआ था जिसको सुनकर और देखकर लोग एकदम सन्न रह गये थे, उस शाम को एक घर में एक साथ एक पूरे के पूरे परिवार ने आ’त्म’ह’त्या कर ली थी, जिसके बाद अचानक ही खबरों में बुराड़ी का नाम खूब घूमने लगा. परिवार की मौ’त के बाद वहां फैली भुति’या अफ’वाहों के चलते वो घर तब से ही खाली पड़ा हुआ था, लेकिन अब करीब डेढ़ साल बाद उस घर में किरायेदार आने वाले हैं.

जिस घर को लोग भुतिया मानकर उसके आस पास भी नहीं भटकते थे अब वहां फिर से चहल-पहल दिखाई देने वाली है. दरअसल हाल ही में एक शख्स ने बुराड़ी के उसी घर को किराए पर ले लिया है, जहाँ वो अपने परिवार के साथ रहने वाला है. गौरतलब है कि अबतक यह घर लोगों के डर और तरह-तरह से फैलाई गयी अफवाहों की वजह से खाली पड़ा हुआ था. वजह वही, जो देश के अख़बारों में बड़े अक्षरों में छापी गयी थी जब बुराड़ी के इस घर में 1 जुलाई 2018 को 11 लोगों ने अज्ञात कारणों से सुसा’इड जैसा कदम उठाया था. इस घटना में घर के 10 सदस्य फां’सी से लटके मिले थे तो वहीं 77 साल की बुजुर्ग महिला का मृ’त शरीर उसी घर के दूसरे कमरे में बेड पर पड़ा हुआ मिला था. उसके बाद ऐसा माहौल पैदा हुआ कि पडोसी यहाँ तक कहने लगे कि इस घर से हंसने या चीखने जैसी आवाजें सुनाई देती हैं, लोग रात के समय उस घर के सामने से गुजरने से कतराते थे.

ऐसे में अब वहां किसी नए परिवार का आना लोगों को चकित कर रहा है. लेकिन पड़ोसियों की मानें तो वो इससे खुश हैं की वहां फिरसे लोग होंगे जो उस घर को संभालेंगे. वहीँ जिस परिवार ने घर लिया है उसके मुताबिक उनकी वहां पहले से ही एक दुकान है, और इस वक्त वो जहाँ रहते हैं वो घर वहां से काफी दूर है जिसकी वजह से उन्होंने उसी घर को किराए पर लेने का फैसला किया है.

लोगों की तसल्ली के लिए परिवार के मुताबिक वो लोग हवन पूजन भी करवाएंगे और इसके बाद नीचे के माले पर दुकान में पैथोलोजी सेंटर खोलेंगे और ऊपर के माले में परिवार रहेगा. नए किरायेदार के मुताबिक उनके बच्चे उस हादसे से पहले वहां ट्यूशन पढने आते थे इसलिए उन्हें कोई डर नहीं है.