ट्रेन के लिए रिजर्वेशन शुरू होने के साथ ही शुरू हुई का’लाबा’जारी, दिल्ली में कई दलाल पुलिस के शि’कंजे में

360

कोरोना वायरस महामा’री के कारण करीब डेढ़ महीने से उपर हो चूका है देश में लगभग सभी चीज़े बंद पड़ी थी. लेकिन अब जाकर देश में रेलवे ने ट्रेन चलाना शुरू किया हैं. रेल मंत्रालय ने 1 जून से 200 ट्रेन चलाने का ऐलान किया हैं. ट्रेन के टिकट को लेकर पहले रेलवे ने कहा था कि सिर्फ ऑनलाइन टिकट बुक होंगे लेकिन अब रेलवे ने अपने टिकट बुकिंग को लेकर बदलाव किया हैं.

रेलवे डिपार्टमेंट ने कहा है कि अब रेलवे के टिकट ऑनलाइन के साथ- साथ ऑफलाइन भी मिलेंगे. मतलब की अब रेलवे टिकट काउंटर पर भी उपलब्ध होंगे. ये जो ट्रेने रेलवे चला रहा हैं. इसमें ख़ास बात ये है कि जनरल कोच में भी अब रिजर्वेशन करवाना अनिवार्य है. टिकट की ऑफलाइन बिक्री शुरू होते ही दलालों का खेल भी शुरू हो गया है और वे दोगुने कीमत पर लोगों को टिकट बेच रहे हैं.

टिकट बुकिंग को लेकर दलालों का खेल शुरू हुआ हैं. जिसका स्टिंग ऑपरेशन एक चैनल ने किया और वहां से ये सच सामने आया है. दिल्ली के पहाड़गंज से 7 दलालों को टिकट की का’लाबा’जारी करते हुए पकड़ा गया हैं और उनको पुलिस ने ग्रिफ्ता’र कर लिया हैं. उनके पास से 6 कंप्यूटर और 4 मोबाइल फोन भी बरा’मद किए गए हैं. खास बात ये है कि दलाल जिन्हें टिकट चाहिए उनके ही IRCTC के आईडी से टिकट करवाने का दावा कर रहे थे.

एक दलाल ने तो ऐसा किया की जिसको टिकट चाहिए था उसी की IRCTC आईडी मांगी और टिकट बुक करना शुरू कर दिया. दलालों ने अलग-अलग जाने के लिए अलग पैसा लेते हैं टिकट बुक करवाने का. जबकि अगर खुद टिकट बुक किया जाये तो इतन पैसा नहीं लगे. लेकिन अब टिकट की का’लाबाजारी को लेकर दलालों ने अपना बिज़नस बना रखा है. जिनको टिकट नहीं मिलता हैं उनको वो अधिक दाम पर टिकट खरीद कर दे देते हैं.

इन ट्रेनों में सफ़र करने के लिए यात्रियों को शर्तों और नियम का पालन करना होगा और जिस यात्री के पास कन्फर्म टिकट होगा वही यात्री ट्रेन में सफ़र कर सकेगे. सफ़र करते वक़्त आरोग्य सेतु ऐप और मुह पर मास्क लगाना जरुरी होगा.