अमेरिका के बाद अब इस देश ने भी दी WHO से संबंध तोड़ने की धमकी और लगाया ये आरोप

कोरोना वायरस के चलते चीन और WHO दोनों की मुश्किलें थमने का नाम नहीं ले रही हैं. अमेरिका और चीन के इस वायरस को लेकर पिछले काफी समय से तनाव बढ़ता जा रहा है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बार नहीं बल्कि कई बार कहा कि चीन ने इस वायरस को लेकर जानकारी छिपाई जिसके चलते पूरी दुनिया इसका प्रकोप झेल रही है. इसी बीच एक बड़ी खबर WHO को लेकर भी आ रही है.

जानकारी के लिए बता दें अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने विश्व स्वास्थ्य संगठन who पर आरोप लगाते हुए कहा कि WHO का झुकाव चीन की तरफ है वो भी जानकारी छिपा रहा है जिसके चलते अमेरिका की तरफ से WHO को दिए जाने वाले फंड पर रोक लगाई जाती है. अमेरिका ने WHO को बड़ा झटका देते हुए किनारा कर लिया. अब अमेरिका की राह पर चलते हुए एक और देश ने WHO को लेकर बड़ा झटका दिया है.

अमेरिका के बाद अब ब्राजील ने भी WHO के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है. ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोल्सोनारो ने ट्रंप के नक़्शे कदम पर चलते हुए WHO को खुली धमकी देते हुए कहा अलग होने की बात कह दी है. उन्होंने विश्व स्वास्थ्य संगठन पर आरोप लगाते हुए कहा कि ”अमेरिका ने डब्ल्यूएचओ से किनारा कर लिया और हम भी उस पर नजर बनाए हुए हैं। अब आने वाले समय में WHO या तो बिना किसी वैचारिक द्वेष के काम करे या हम उससे अलग हो जाएंगे.”

गौरतलब है कि चीन के वुहान शहर से फैले इस वायरस ने पूरी दुनिया में हाहाकार मचा रखा है. इस वायरस से अब तक हजारों लोगों की जान जा चुकी है और लाखों लोग अब भी पीड़ित हैं. सबसे बड़ी बात ये है कि कोई भी देश इस वायरस की दवा और वैक्सीन अभी तक नहीं बना पाया है, जिससे लोगों की जान जा रही है. ब्राजील में भी कोरोना से 34 हजार से ज्यादा लोगो की जान जा चुकी है जोकि पूरे विश्व में तीसरे स्थान पर है.

Related Articles