भारत- चीन के बीच सीमा वि’वाद, भारतीय जवानों को चीनी सैनिकों के हि’रासत में लेने पर मिला ये जवाब

277

बीते कुछ दिनों से भारत और चीन के बीच सीमा को लेकर त’नाव बना हुआ है. जिसकी वजह से स्थिति काफी तना’वपूर्ण हो गयी है. एक तरफ चीन दुनिया भर में कोरोना का सं’कट फैला चुका है. दूसरी तरफ सीमा पर पर अब चीन अपना द’वाब बना रहा है.

दरअसल मिली जानकारी के मुताबिक चीन ने गल्वान घाटी में पिछले दो सप्‍ताह के भीतर करीब 100 टेंट लगा दिए है और इसी के साथ वह मशीनरी भी यहां ला रहा है जो शायद बं’कर्स बनाने में इस्‍तेमाल हो. वही भारत ने  भी पैगोंग झील और गल्वान घाटी में सैनिकों की तैना’ती लगातार बढ़ा रहा है. जिसके बाद कुछ दिनों पहले एक खबर आयी थी. जिसमें कहा गया था कि सीमा पर भारत और चीन के सैनिकों के बीच झड़’प हो गयी थी.

जिसके बाद चीन ने भारत के कुछ जवानो को हि’रासत में ले लिया था. हालांकि बाद में उन्हें छोड़ दिया तह. जिस पर भारतीय सेना के वरिष्ट अधिकारियों ने बात को स्प’ष्ट करते हुए कहा कि ऐसा कुछ भी नहीं हुआ है. हमारे किसी जवा’न को चीन की सेना न ही हिरा’सत में लिया और न ही उनके हथि’यार छी’ने है. इस तरह की अफवा’ह रा’ष्ट्र के हि’ट में नहीं है. इससे देश में त’नाव और बढ़ता है.

जाहिर है चीन काफी दिनों से सीमा पर आने सैनि’कों की तैनाती का’फी ज्यादा संख्या में कर रहा है. जिसके चलते भारत भी अब अपने सैनिकों की संख्या बढ़ा रहा है. हाल ही में चीन ने अपने 1300 सैनिक गल्वान घाटी में तै’नात किये है और झील में नावों की संख्या भी बढ़ा रहा है. इसके साथ ही हेलि’कॉप्‍टर्स उड़ा पर वो निग’रानी रखने का काम भी कर रहा है. ऐसे में भारत ने भी त’य कर लिया है. कि वो चीन को उसी की भा’षा में जवाब देगा इसके लिए भारत भी अपनी तरफ से हर तैयारी कर रहा है.