बिहार चुनाव में इस बार डिजिटल तरीके से बीजेपी करेगी चुनाव प्रचार, इतने डिजिटल रथ के साथ उतरेगी चुनावी मैदान में

43

कोरोना सं’क्र’म’ण के बीच विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान हो गया है. पहले चरण की अधिसूचना भी जारी कर दी गई है. सभी पार्टियां चुनाव प्रचार में जीजान से लगे है. दूसरी तरफ सीट बंटवारे को लेकर अभी तक पें’च फं’सा है. किसी भी पार्टी का सीट को लेकर कुछ भी तय नही हुआ है. हर तरफ खीं’चता’न मची हुई है. बिहार चुनाव में इस बार बड़ी चुनावी रैलियां नहीं दिखेंगी. बल्कि राजनैतिक दल डिजिटल वा’र की तैयारी में हैं.

कोविड 19 के चलते चुनाव आयोग ने पहले ही रैलियों पर रोक लगा दी है, ऐसे में अब सभी दल डिजिटल तकनीक का इस्तेमाल कर रहे हैं. तो वहीं भारतीय जनता पार्टी ने तो इसे लेकर बड़ा प्लान तैयार कर लिया है. बीजेपी बिहार के चुनावी कु’रु’क्षे’त्र में 120 डिजिटल रथ उतारेगी.

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश महासचिव देवेंद्र कुमार ने बताया कि ‘डिजिटल रथ यात्रा के माध्यम से वोटरों को लुभाया जाएगा. ग्रामीण क्षेत्र के मतदाताओं पर ज्यादा फोकस रहेगा. ये डिजिटल रथ गांव-गांव पहुंचकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आ’त्मनि’र्भ’र भारत से लेकर अन्य जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी देगा.  उन्होंने बताया कि 120 डिजिटल रथ तैयार किए गए हैं. आने वाले एक दो दिनों में लगभग 20 रथ को रवाना कर दिया जाएगा. इस रथ पर ‘जन जन की पुकार, आत्मनिर्भर बिहार’ लिखा होगा’.

बिहार चुनाव में भाजपा के अलावा ‘हम’ पार्टी भी डिजिटल रथ यात्रा निकालने की तैयारी में है. जीतनराम मांझी की पार्टी हम 50 डिजिटल रथ चुनावी मैदान में उतारेगी. इस रथ पर ’15 साल का सुशासन बनाम 15 साल का जं’ग’ल’रा’ज’ लिखा होगा. वहीं जदयू भी डिजिटल रथ उतारने की तैयारी में है.