पश्चिम बंगाल से आई ये तस्वीरें वाकई चिंताजनक हैं! देखिये वीडियो

387

पश्चिम बंगाल से पिछले कुछ समय से बेहद चिंताजनक खबरें सामने आती हैं. ये ख़बरें वाकई किसी को भी परेशान कर सकती हैं. कुछ लोग खुलेआम लोगों को पीटते हैं..मारते हैं…और मार ही डालते हैं… ये सब करने का आरोप किसी और पर नही बल्कि खुद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के कार्यकर्ताओं यानी टीएमसी के कार्यकर्ताओं पर है…आइये पूरी घटना को समझते हैं…
हाल ही जब बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पश्चिम बंगाल में रैली करने जा रहे थे तब उनके हेलीकाप्टर को उतरने तक की अनुमति नही मिल रही थी…बाद में जब यह खबर मीडिया में फैलने लगी तो ममता बनर्जी उलटा बीजेपी पर झूठ बोलने का आरोप लगा दिया. इन सबके बीच आखिरकार अमित शाह को पश्चिम बंगाल में रैली करने की अनुमति मिली और फिर वे एक रैली संबोधित करने के लिए पहुंचे… लेकिन यहाँ भी टीएमसी कार्यकर्ता बेहद खतरनाक तरीके से पेश आये…
आप ये विडियो देखिये और समझने की कोशिश कीजिये कि आखिर टीएमसी कार्यकर्ता करना क्या चाहते हैं…

ये नजारा है पश्चिम बंगाल के पूर्वी मिदनापुर जिले में बीजेपी प्रमुख अमित शाह की रैली के बाद का.. जहां बीजेपी कार्यकर्ताओं और टीएमसी कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हो गयी…और टीएमसी कार्यकर्ताओं ने नाकि जमकर हंगामा किया बल्कि बीजेपी कार्यकर्ताओं के लेकर जाने वाली बसों को तोडा …और उन्हें आग के हवाले कर दिया
इस पूरे घटनाक्रम को देखने के बाद यह सवाल जरुर खड़ा होता है कि आखिरकर रैली बीजेपी की थी तो टीएमसी कार्यकर्ताओं में इतना उबाल क्यों?… ये घटना जब हो रही थी पुलिस प्रशासन क्या कर रहा था? … रैली में आने जाने वालों की सुरक्षा को अनदेखा क्यों किया गया? वैसे अगर पश्चिम बंगाल में सुरक्षा की बात की जाए तो बता दें कि बीजेपी के लगभग 150 कार्यकर्ताओ को मौत के घाट उतारा जा चूका है…यहाँ आपको यह भीं जानना चाहिए कि इन कार्यकर्ताओं को मारने का आरोप टीएमसी कार्यकर्ताओं पर ही हैं… तो ऐसे में जब अमित शाह की रैली में पहुंचे कार्यकर्ताओं पर हमला किया गया तो आखिर कारण क्या हो सकते हैं… तिलिमिलाहट…या कुछ और….


अब चुनावी मौसम आ रहे हैं….कई रैलियां आयोजित की जाएँगी..नेताओं का आना जाना बढेगा… चुनावी भाषण दिए जायंगे … लेकिन इस तरह की घटनाएँ अभी से किस तरफ इशारा कर रही हैं? आखिर पशिचम बंगाल में ममता सरकार शान्ति चाहती हैं?
इस पूरे घटना क्रम पर तृणमूल कांग्रेस का दावा है कि बीजेपी कार्यकर्ताओं ने तृणमूल कांग्रेस के कांठी में स्थित एक स्थानीय कार्यालय पर हमला किया और तोड़फोड़ की..इसके बाद उनके कार्यकर्ता भड़क गये… टीएमसी की ये बात कुछ हजम नही हो रही हैं…क्योंकि सरकार आपकी, पुलिस आपकी, कानून व्यवस्था आपके हाथ में और आप रोना रो रहे हैं….जनता सब समझती हैं…..इस पूरे घटना पर राज्य बीजेपी के अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा, ‘हमारे समर्थक जब अमित शाह की रैली से लौट रहे थे तो उन पर तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने हमला किया. यह शर्मनाक है. हम इसकी आलोचना करते हैं.’