देश में रहने से ‘डरने वालों’ को अब पाकिस्तान नही बल्कि बम से उड़ाया जाएगा!

440

नेता अपने बयानों के जरिये सुर्ख़ियों में बने रहते हैं और बयान अगर विबादित हो..तो क्या कहने? पार्टी कोई भी हो लेंकिन नेताओं के विवादित बयान एक जैसे होते है और एक दूसरे से आगे निकलने की होड़ में रहते है कि कौन कितना बड़ा विवादित बयान दे रहा है. ऐसे कई नेता अपने बयानों के साथ हमारे सामने आते रहते है.
पाकिस्तान नही, बम से उड़ायेंगे!
वैसे देश में पिछले कुछ समय से कुछ लोग काफी परेशान है. कुछ घटनाओं के आधार पर कुछ लोगो ने देश की सहिष्णुता पर सवाल खड़े कर दिया. किसी को भारत में रहने से डर लगता है. किसी को अपने बच्चे की चिंता होती है तो वहीँ कुछ लोग ये सब कहने वालों को पाकिस्तान भेजने की बात करते है . अब तो इन सबसे बात आगे निकल चुकी है. अब पाकिस्तान भेजेने की बात नही बल्कि बम से उड़ा देने की बात हो रही है.

Source-News18

हम बात कर रहे हैं उत्तर प्रदेश के विधायक विक्रम सैनी की. जो खतौली से बीजेपी के विधायक है. इनका एक वीडियो सामने आया है जिसमें वे कहते नजर आ रहे है कि अगर उन्हें मंत्रलाय दे दिया जाए तो वे उन लोगों को बम से उड़ा देंगे जिनको देश में रहने से डर लगता है.विक्रम सैनी के इस विवादित बयान को नसीरुद्दीन शाह के बयान से जोड़ कर देखा जा रहा है. जिसके बाद इसपर विवाद भी बढ़ सकता है. वीडियो वायरल होने के बाद विक्रम सैनी ने कहा कि ये मेरी व्यक्तिगत राय है.

वैसे सैनी जी ने कोई नई बात नही कही है. जिस नेता का विवादित बयान सामने आता है और उस पर बवाल मचता है या तो नेताजी खुद को इससे अलग कर लेते है या फिर पार्टी! यहाँ सैनी जी ने चालाकी दिखाई और इसे अपना व्यक्तिगत बयान बता दिया फिर बोले –मेरे क्षेत्र में ऐसे ही बोला जाता है.

अब आप यहाँ वीडियो देखिये


चलिए छोडिये अब तो ऐसा लगता है जैसे सभी पार्टियों में कुछ नेता सिर्फ विवादित बयान देने के लिए ही रखे गये हो. उनका काम सिर्फ विवादित बयान देकर मुद्दे से भटकाना ही हो. ये नेता पार्टी से कोई जिम्मेदारी पाकर खुद को महान समझने लगते है. ऐसे में उनके विवादित बयानो की लाइन लग जाती है. भारतीय जनता पार्टी में गिरिराज सिंह, साक्षी महाराज, साध्वी प्राची जैसे कई नेता है जो विवादित बयान अक्सर देते रहते हैं. वहीँ कांग्रेस में ऐसे नेताओं की कमी नही है, जैसे शशि थरूर और दिग्विजय सिंह जैसे कई नेता है जो अपने विवादित बयानों के लिए अक्सर सुर्ख़ियों में रहते हैं.

यहाँ हमें समझना होगा कि आखिर विवादित बयान कहते किसे हैं? दरअसल वो बयान जो तथ्यहीन, झूठे, किसी की भावनाओं को ठेस पहुँचाने वाले, किसी के लिए असभ्य भाषा आदि का इस्तेमाल करने पर हम उसे विवादित बयान कहते है लेकिन हमारे देश के नेताओं का तो पूछिए ही मत उनकी जुबान से किसी के लिए कुछ भी निकल सकता है.


वैसे नेताओं के विवादित बयान से आप पर क्या फर्क पड़ता है हमें जरुर बताएं.