युवाओं को रोज़गार देने वाले बयान पर चौतरफा घिर गए तेजस्वी यादव, बीजेपी के कई नेताओं ने जमकर साधा निशाना

157

बिहार में विधानसभा चुनावों का आगाज हो चुका है. चुनाव से पहले सियासत जारी है. सभी दलों ने जनता को लुभाने के लिए चुनावी वादे भी करना शुरू कर दिया है. बिहार में विधानसभा चुनावों के चलते सियासी गलियारों में हलचल तेज हो चुकी है. सभी पर सियासी रंग चढ़ने लगा है और सबके नि’शा’ने पर वि’प’क्ष है.

जानकारी के लिए बता दें बिहार चुनावों की तैयारी के बीच अभी हाल ही में राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने नयी राष्ट्रीय कार्यकारिणी का गठन किया था. जिसमें तेजस्वी सूर्या को बड़ी जिम्मेदारी देते हुए उन्हें भारतीय जनता युवा मोर्चा का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया गया था. नई कार्यकारिणी गठन होने के तुरंत बाद ही युवा नेता तेजस्वी सूर्या एक्शन में आ गए हैं और अपनी जिम्मेदारी का नि’र्व’ह’न करते हुए बिहार पहुंच गये हैं.

बिहार पहुंचने के बाद ही तेजस्वी ने वि’प’क्ष समते तेजस्वा यादव पर भी हम’ला बोला है. दरअसल, रविवार को नेता प्र’तिप’क्ष तेजस्वी यादव ने यह ऐलान किया था कि सरकार में आते ही वो दस लाख बेरोजगार युवाओं को सरकारी नौकरी देंगे. इस घोषणा के बाद से तेजस्वी लगातार सत्तारूढ़ दल के नि’शा’ने पर आ गये है और बीजेपी नेताओं ने उनपर प’ल’टवा’र करना शूरु कर दिया है. कुछ नेताओ मे तो उन पर तंज भी कसा है.

इसी क्रम में सोमवार को बीजेपी प्रदेश मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम के दौरान टाउन हाल में महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने तेजस्वी के 10 लाख रोज’गार देने के वादे पर ह’म’ला करते हुए कहा कि ‘तेजस्वी अपने पहले कैबिनेट में 10 लाख त’मं’चे खरीद कर अपने गु’र्गो को बा’टें’गे और बिहार में अ’प’ह’र’ण लू’ट का उ’द्यो’ग शुरू करेंगे’.

इसी कड़ी में बीजेपी युवा मोर्चा के नवनियुक्त राष्ट्रीय अध्यक्ष सांसद तेजस्वी सूर्या ने भी कहा कि वो बिहार के युवाओं का द’र्द समझते है. तेजस्वी पर ह’म’ला करते हुए कहा कि ये राजकुमार जो महलों की राजनीति करते है वो इस द’र्द को कब समझेंगे. उन्होने आगे कहा कि बीजेपी युवाओं के द’र्द को समझती है और इसको दूर करने का पूरी प्रयास किया जायेगा.