कश्मी’र में क्या करने जा रही सरकार, बुलाई जम्मू-क’श्मीर भाजपा की बैठक

4041

अभी तो कश्मीर में सुरक्षा बलों की 100 कंपनियों को तैनात किये जाने से उठी तरह तरह की आशंकाएं ख़त्म भी नहीं हुई थी कि भाजपा ने जम्मू –कश्मीर इकाई की बड़ी बैठक बुला कर फिर हलचल बढ़ा दी . न्यूज एजेंसी ANI के हवाले से खबर है कि आगामी 30 जुलाई को पार्टी ने जम्मू-कश्मीर इकाई की बड़ी बैठक बुलाई है . इस बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और कार्यकारी भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा भी मौजूद रहेंगे . हालाँकि ये बैठक किस सिलसिले में बुलाई गई है ये अभी साफ़ नहीं है .

एकाएक जम्मू कश्मीर में 10 हज़ार अतिरिक्त जवानों की तैनाती से तरह तरह की आशंकाएं लोगों के मन में आ रही है . कहा जा रहा है कि सरकार आर्टिकल 35A पर सरकार कोई बड़ा फैसला लेने वाली है इसलिए घाटी में सुरक्षा बालों की संख्या बढाई जा रही है . सरकार के इस कदम पर राजनीति भी तेज हो गई है . राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती घाटी में सुरक्षा बालों की संख्या बढाए जाने को आर्टिकल 35A से जोड़ कर देख रही हैं और भड़काऊ बयानबाजी कर रही हैं .

चुनाव के वक़्त भाजपा ने अपने घोषणापात्र में भी आर्टिकल 35A को शामिल किया था और तभी से ये कहा जा रहा था कि अगर पार्टी सत्ता में आती है तो इस बार कश्मीर से आर्टिकल 35A को लेकर कोई बड़ी कारवाई की जायेगी . राजनाथ सिंह के बदले जब गृह मंत्रालय का प्रभार अमित शाह को दिया गया तब इस संभावना को और बल मिला कि नयी मोदी सरकार कश्मीर को लेकर कुछ गंभीर सुर बड़ी प्लानिंग कर रही है . बीते दिनों राज्य में विधानसभा चुनाव को लेकर भी चर्चाएँ चल रही थी लेकिन फिलहाल 6 महीने तक वहां राष्ट्रपति शासन बढ़ा दिया गया है . घाटी में सुरक्षा बालों की संख्या बढाने से कुछ ही दिन पहले राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल कश्मीर यात्रा से वापस लौटे थे, कहा जा रहा था कि उनकी इस यात्रा को सबकी नज़रों में आने से बचाने के लिए काफी लो पप्रोफाइल रखा गया था ,