बिहार की राजनी’ति में एक बार फिर महिला उ’म्मीदवा’रो की दा’वेदा’री बढ़ी

91

जहाँ हमारे देश में महिलाये हर क्षे’त्र में आगे बढ़ रही है. वही राजनीति भी ऐसी जगह है जहाँ पर महिलाये अपना वर्च’स्व स्थापि’त कर रही है. दरअसल आगा’मी बिहार विधानसभा चु’नाव में भी कुछ ऐसा ही न’जारा देखने  को मिल रहा है. बता दें बिहार में भले ही अभी चुनाव की तारीख का ऐ’लान नहीं हुआ है. लेकिन हल’चल जरु’र शुरू हो गयी है वही महिलायों की भागी’दारी भी चु’नाव में साफ़ देखने को मिल रही है.

जानकारी के लिए बता दें जैसे जैसे चुनाव न’जदीक आ रहा है वैसे ही पुरुषो के साथ साथ महि’लाये भी टिकट लेने के लिए पार्टी कार्या’लयों और शीर्ष नेताओं का च’क्कर लगा रही है. इतना ही नहीं  पार्टी कार्यालय में पूरे दिन पुरुषों के साथ-साथ महि’लाएं भी अपनी उम्मी’दवा’री की दा’वे’दारी करती दिख रही हैं. साथ ही साल दर साल म’हिला’यों की संख्या भी बढ़ती जा रही है.

वही अगर पिछले चुनाव की बात करे तो 2015 में हुए बिहार वि’धान’सभा चुना’व में 243 सीटों में से 28 पर महिलाओं ने जी’त हा’सिल की थी. जिनमें 10 विधायक RJD, 9 JDU, 4 कांग्रेस, 4  BJP और एक निर्द’लीय हैं. इन 28 महिला वि’धायकों में से 25 ने पुरुष उ’म्मीद’वारों को ह’राया था. वही 28 में से 8 महिला विधाय’कों ने अपने विरो’धी उ’म्मीद’वारों के मुकाबले 20,000 से भी अधिक म’त हा’सिल किया था. जीत का सबसे बड़ा अ’तंर जनता दल की वीना कुमारी के खाते में द’र्ज हुआ था. वीना कुमारी ने त्रिवे’णीगंज से लोजपा के अनंत कुमार भारती को 52,400 म’तों से हरा’या था. इससे साफ़ जाहिर है कि अब महिलाये भी पुरुषो के मुका’बले बढ़ चढ़ कर हि’स्सा ले रही है.