बिहार में नए कांग्रेस प्रभारी के नेताओं ने किया ऐसा स्वागत कि आपस में ही जमकर फेंकी गयी कुर्सियां

28

कांग्रेस पार्टी की एक मुश्किल थमती नही है और दूसरी शुरू ही जाती है. एक के बाद एक झटका झेल रही कांग्रेस पार्टी के नेता ऐसी हरकत कर बैठते हैं जिससे पार्टी की जमकर फ़जीहत हो जाती है. ऐसा ही एक बार फिर हुआ है. बिहार में कांग्रेस के नए प्रभारी भक्त चरण दास की मौजूदगी में मंगलवार सदाकत आश्रम कांग्रेस कार्यालय में लगातार दूसरे दिन भी जमकर हंगामा हुआ.

जानकारी के लिए बता दें बिहार में नए कांग्रेस प्रभारी का ऐसा स्वागत हुआ कि आपस में ही भिड़ गये और जमकर हंगामा काटा. नेताओं ने एक दूसरे पर आरोपों की झड़ी लगाते हुए जमकर तू-तू मैं मैं की इतना ही नही यहाँ मारपीट तक की नौबत आ गयी और एक दूसरे पर कुर्सियां फेंकी गयी. इस घटना के बाद कांग्रेस पार्टी की जमकर खिल्ली उड़ रही है.

बिहार में कांग्रेस के नए प्रदेश प्रभारी के सामने जो ड्रामा हुआ वो देखने के बाद वो भी हैरान हैं. मंगलवार को पहले दौर की बैठक शुरू होते ही किसान नेता राजकुमार राजन ने पार्टी के प्रदेश नेतृत्व पर मनमानी और पिछले विधानसभा चुनावों में टिकटों की खरीद- फरोख्त का आरोप लगाया. जिसके बाद प्रदेश नेतृत्व में शामिल कई नेताओं ने उन्हें रोका और चेतावनी दी लेकिन उसी बीच बैठक में टोका-टोकी हो गयी.

देखें वीडियो:

गौरतलब है कि बैठक में लगातार रोके जाने की कोशिशों को नजरंदाज करते हुए राजकुमार राजन नही रुके और बोलते रहे. इसी बीच कुछ नेता उन्हें ललकारते हुए आगे बढे तो सामने से भी कुछ नेता आ गये, जिसके बाद धक्का मुक्की और एक दूसरे पर कुर्सियां फेंकने का सिलसिला शुरू हो गया. वहीँ मंच पर मौजूद कांग्रेस के नए प्रदेश प्रभारी भक्त चरण दास, प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा सहित कई वरिष्ठ नेता, झगड़ा कर रहे नेताओं को शांत करवाने की कोशिश करते रहे लेकिन वो लोग नही माने फिर काफी जद्दोहद के बाद मामला शांत हुआ.