यूपी में 69000 शिक्षकों की भर्ती पर फिरा पानी, हाईकोर्ट ने बड़ा झटका देते हुए लगाई रोक, जानिए वजह

उत्तरप्रदेश में अभी हाल ही में 69000 शिक्षक भर्तियों का रास्ता साफ हो गया था और परिणाम जारी हो गया था. जिसके बाद कॉउंसलिंग की भी डेट जारी कर अभ्यर्थियों को बुलाया गया था. इसी बीच अब एक बड़ी खबर आ रही है जिसे जानने के बाद आपको बड़ा झटका लगना तय है.

जानकारी के लिए बता दें उत्तरप्रदेश परिषदीय प्राथमिक स्कूलों में 69000 सहायक अध्यापकों की भर्ती पर इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने बड़ा झटका देते हुए रोक लगा दी है. परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय ने 9 मई को संशोधित उत्तरमाला और 12 मई को परिणाम घोषित किये थे.

रिजल्ट जारी होने के बाद एक दो नम्बर से फेल हो रहे सैंकड़ों अभ्यर्थियों ने करीब 1 दर्जन प्रश्नों के उत्तर को चुनौती देते हुए हाईकोर्ट की इलाहाबाद और लखनऊ खंडपीठ में 200 से अधिक याचिकाएं दायर कर दी थी जिसके चलते भर्ती पर रोक लगा दी गयी है.

गौरतलब है कि वरिष्ठ अधिवक्ता एचजीएस परिहार के अनुसार भर्ती की प्रकिया को फिलहाल स्थागित कर दिया गया है. इसी के साथ कोर्ट ने अभ्यर्थियों को आपत्ति दर्ज करने के लिए एक सप्ताह का समय दे दिया है. जिसके बाद इन आपत्तियों की सुनवाई UGC करेगा और इसकी अगली सुनवाई 12 जुलाई को होगी.