लॉकडाउन को देखते हुए BCCI ने IPL पर लिया ये बड़ा फैसला,

887

कोरो’ना वायरस महा’मारी की वजह से देश के अंदर लॉकडाउन की अवधि को 3 मई तक के लिए बढ़ा दिया गया हैं. जिसकी वजह से देश के अंदर बहुत कुछ ठप पड़ गया है. कोरो’ना की वजह से आज देश की आर्थिक हालत भी कहीं न कहीं खराब होती दिख रही हैं. अगर बात करें खेल जगत की तो इस बार आईपीएल पर भी संशय बरकरार था. लेकिन अब BCCI ने इसपर फैसला ले लिया है.

आखिरकार BCCI ने विश्व का सबसे बड़ा क्रिकेट लीग आईपीएल 2020 को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया है. दुनिया की सबसे महंगी क्रिकेट लीग को स्थगित करने का आधिकारिक ऐलान बुधवार को किया गया. 29 मार्च से 24 मई के बीच होने वाले इस टूर्नामेंट के लिए बोर्ड के पास कोई नया प्लान नहीं था. जिसकी वजह से आईपीएल को स्थगित करना पड़ा हैं.

इसके पहले मंगलवार शाम को एक बैठक में बातचीत हुई थी, जहां BCCI के शीर्ष अधिकारी सौरव गांगुली (अध्यक्ष), जय शाह (सचिव), बृजेश पटेल (आईपीएल अध्यक्ष), अरुण धूमल (कोषाध्यक्ष) और हेमंग अमीन (IPL मुख्य परिचालन अधिकारी) मौजूद थे. इसके पहले 15 अप्रैल और फिर 3 मई तक IPL को कोविड-19 महामारी की वजह से जारी लॉकडाउन के चलते स्थगित किया जा चुका था.

आईपीएल को लेकर BCCI के सूत्रों के मुताबिक आईपीएल टूर्नामेंट को रद्द करने पर 3000 करोड़ रुपये का नुकसान होगा. इससे पहले भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने IPL को लेकर बड़ा बयान दिया था. सौरव गांगुली ने कहा था कि ‘मौजूदा हालात में इस पर सोचा भी नहीं जा सकता है.’ सौरव गांगुली की वो बात कही न कही सही हो गई और आज आईपीएल को स्थगित करने का फैसला लिया है. जो की एक हद तक सही है. आज देश भुत बड़ी विपदा से लड़ रहा हैं. तो पहले देश को इस विपदा से बाहर निक्लालना जरुरी हैं.