बरखा दत्त ने कपिल सिब्बल को क्यों कहा माल्या जैसा भगोड़ा ?

745

लोकसभा चुनाव से ठीक पहले 26 जनवरी 2019 को बड़े जोर शोर से एक न्यूज चैनल लॉन्च किया गया और नाम रखा गया तिरंगा टीवी . कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल और उनकी पत्नी ने इसे प्रमोट करना शुरू किया . दरअसल चुनाव से ठीक पहले कपिल सिब्बल के सहयोग से न्यूज चैनल को शुरू करने का मकसद था कि कांग्रेस के पक्ष में हवा बनाई जा सके. बरखा दत्त जैसा बड़ा नाम भी इस चैनल के साथ जुड़ा लेकिन तिरंगा टीवी की किस्मत रिपब्लिक भारत टीवी जैसी नहीं थी, क्योंकि शुरू होने के मात्र 6 महीने के बाद ही इस चैनल के ग्रह दशा बिगड़ गए. दरअसल इस चैनल को लेकर एक बड़ा विवाद खड़ा हो गया है. हालाँकि चैनल की हालत तो काफी दिनों से खराब थी और इसके बारे में तिरंगा के कर्मचारी ट्वीट करते रहते थे लेकिन इस चैनल का मुख्य चेहरा बरखा दत्त ने चैनल के भीतर के हालात को दुनिया के सामने ला दिया. बरखा ने कपिल सिब्बल और उनकी पत्नी पर सनसनीखेज आरोप लगाए हैं. ट्विटर पर बरखा दत्त ने एक के बाद एक कई ट्वीट करते हुए कपिल सिब्बल और उनकी पत्नी के धोखे की कलई खोल कर रख दी.

बरखा ने कपिल सिब्बल पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया – “कपिल सिब्बल और उनकी पत्नी द्वारा चलाए जा रहे तिरंगा टीवी में भयावह स्थिति है। यहाँ 200 से ज्यादा कर्मचारियों को बिना 6 महीने की सैलरी दिए निकाल दिया गया है। एक व्यक्ति जो जनता के बीच में खुद को बिलकुल साफ़ दिखाता है, वो पत्रकारों के साथ घिनौना बर्ताव कर रहा है।“

बरखा ने अपने दुसरे ट्वीट में बताया – “तिरंगा टीवी में काम करने वाले अधिकतर लोग अच्छी नौकरी के ऑफर ठुकराकर या फिर जमी-जमाई नौकरी छोड़कर कपिल सिब्बल के आश्वासन पर यहाँ आए थे. कपिल सिब्बल ने आश्वासन दिया था कि चैनल को कम से कम 2 साल तक चलाया जाएगा. लेकिन जब कर्मचारियों को निकाला गया तो न कपिल सिब्बल ने स्टाफ से बात की और न ही उनकी पत्नी ने बल्कि सभी लाइव प्रोग्रामिंग को 48 घंटों के लिए रद्द कर दिया गया.”

बरखा ने सिब्बल की पत्नी पर पत्रकारों के साथ दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाया . बरखा ने कहा कि “मीट फैक्टरी चलाने वाली कपिल सिब्बल की पत्नी तिरंगा TV के ऑफिस में चिल्लाकर कहती थीं कि उन्होंने मजदूरों को एक पैसा दिए बिना फैक्टरी बंद कर दी थी तो ये पत्रकार कौन होते हैं 6 महीने की सैलरी माँगने वाले.”

कभी एनडीटीवी जैसे बड़े चैनल की पहचान रह चुकी बरखा दत्त ने कपिल सिब्बल पर आरोप लगाया कि सिब्बल ने चैनल की खस्ता हालत के लिए मोदी सरकार को जिम्मेदार ठहराया लेकिन ये बिलकुल झूठ था . भारत सरकार ने कुछ भी नहीं किया था . इन पति-पत्नी ने स्टाफ़ से मिलने की कोशिश तक नहीं की और चैनल बंद करके लंदन चले गए, जिस कारण मैं इन्हें माल्या बुलाने पर मजबूर हूँ .

बरखा दत्त ने तो ये आरोप लगा कर सनसनी मच दी कि सिब्बल की पत्नी महिला कर्मचारियों को “कुतिया” या “बिच” बुलाती थीं. बरखा के इन आरोपों के बाद सोशल मीडिया पर तहलका मच गया. हालाँकि अभी तक बरखा के आरोपों पर कपिल सिब्बल ने कोई जवाब नहीं दिया है . लेकिन बरखा के आरोपों पर अगर भरोसा करें तो ऐसा लगता है कि कपिल सिब्बल ने चुनाव के दौरान लोगों को झूठे सपने दिखा कर एक न्यूज चैनल शुरू किया और चुनाव में पार्टी की हार के बाद उन्होंने चैनल और उसके कर्मचारियों की तरफ से मुंह मोड़ लिया .