मंच पर चढ़ कर आज़म खान ने जया प्रदा पर किया अश्लील तंज़

426

सपा से उत्तर प्रदेश के रामपुर से प्रत्याशी आजम खान और बीजेपी प्रत्याशी जयाप्रदा के बीच जुबानी जंग थमने का नाम नहीं ले रही है..लेकिन इस बार आजम खान अपनी मर्यादा की सारी सीमाएं लांघ दी, दरअसल उन्होंने, उनके खिलाफ चुनाव लड़ रही, भाजपा नेता जया प्रदा पर बेहद आपत्तिजनक बयान दिया है , उन्होंने जया प्रदा का नाम लिए बगैर जनसभा में मौजूद लोगों से पूछा, ‘क्या राजनीति इतनी गिर जाएगी कि 10 साल जिसने रामपुर वालों का खून पिया, जिसे उंगली पकड़कर हम रामपुर में लेकर आए, उसने हमारे ऊपर क्या-क्या इल्जाम नहीं लगाए। क्या आप उसे वोट देंगे? उसकी असलियत समझने में आपको 17 साल लगे, फिर उसके बाद जो उन्होंने बात कही वो किसी भी महिला के सम्मान को बहुत गहरी ठेस पंहुचा सकती है..हम आपको उनके ही वीडियो में ये बात सुनाते है.

पर हैरान करने वाली बात तो ये है कि जब ये अभद्र भाषा अजम खान जी मंच पर चढ़ कर बोल रहे थे तब अखिलेश यादव जी भी उसी मंच पर मौजूद थे..लेकिन जया प्रदा पर इस आपत्तिजनक बयान देने के बाद आजम खान बहुत मुश्किल में घिर गए हैं..राष्ट्रीय महिला आयोग ने आजम खान को नोटिस भेजने की बात कही थी, राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने भी ट्वीट करते हुए आजम खान की इस टिप्पणी को बेहद घिनौना करार दिया था। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा था कि NCW चुनाव आयोग से अनुरोध करेगा कि वह आजम को चुनाव लड़ने से रोकें। बता दें आजम खान की वीडियो को एक यूजर द्वारा अपलोड करने के तुरंत बाद रेखा ने मामले पर संज्ञान लिया था। वहीं उनके खिलाफ रामपुर के शाहबाद थाने में एक एफ़आईआर भी दर्ज़ की गई है

इसके साथ साथ विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने भी ट्विटर के जरिए मुलायम सिंह यादव, अखिलेश यादव और डिंपल यादव से इस मामले के कड़ी प्रतिक्रिया लेने ने की बात की है। सुषमा जी ने अपने ट्वीट में कहा “मुलायम भाई- आप पितामह हैं समाजवादी पार्टी के। आपके सामने रामपुर में द्रौपदी का चीर हरण हो रहा हैं आप भीष्म की तरह मौन साधने की गलती मत करिए।”

इस मामले में जया प्रदा ने भी अपनी प्रतिक्रिया रखी और कहा है कि आजम खान ने जो शब्द उनके लिए कहे हैं, वो अपनी जुबान से कहना भी नहीं चाहतीं और न ही कह पाएंगी..उन्होंने आगे कहा कि ये शख्स सुधरने वाला नहीं है और इस बार तो हद ही पार कर दी है. जया प्रदा ने एक यह भी सवाल किया कि महिलाओं को लेकर ऐसी टिप्पणी करने वाले आजम खान के घर में क्या मां या बहू-बीवी नहीं हैं. क्या आजम खान अपने घर की महिलाओं के लिए भी ऐसे बयान देंगे. ऐसा कहते हुए जया प्रदा ने आजम खान से अपने सभी रिश्ते खत्म कर दिए…

बिडम्बना देखिये किस तरह कि है इन नेताओं की ,यही वही नेता है जो नारी का सम्मान नारी की सुरक्षा, ऐसे मुद्दों पर मंच पर चढ़ के बड़े बड़े भाषण देते है,और दूसरी तरफ उसी मंच पर चढ़ कर महिलाओं के लिए इस तरह की घटिया बयानबाजी करते है, और फिर ये उम्मीद भी रखते है कि इन्हें देश की सत्ता जनता हाथों में दे .सवाल ये उठता है कि जिसे बहन कहते थे या मानते थे उन के खिलाफ ये मंच पर चढ़ कर ऐसे शब्द बोल गये तो फिर और महिलाएं हमारे देश किए इन पर कैसे भरोसा करें