बड़ी खबर : छिन गयी आजम के बेटे अब्दुल्ला की विधायकी, ये है वजह

1444

उत्तर प्रदेश के बड़े नेता और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के करीबी आजम खान के लिए एक बुरी खबर सामने आ रही है. आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम विधायक थे, पर अब हैं नही! आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने तगड़ा झटका दिया है. हाईकोर्ट ने अब्दुल्ला आजम का निर्वाचन रद्द कर दिया है.

दरअसल आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम को दस्तावेज में हेराफेरी करने के मामले में दोषी पाया गया है. अब्दुल्ला को इलाहबाद हाईकोर्ट ने सोमवार को फर्जी दस्तावेज देकर चुनाव लड़ने का दोषी पाया है. कोर्ट ने कहा कि चुनाव के वक्त अब्दुल्ला आजम की उम्र 25 साल नहीं थी. अब्दुल्ला रामपुर से समाजवादी पार्टी की टिकट पर चुनाव जीते थे. कोर्ट ने उनकी उम्‍मीदवारी रद्द करते हुए कहा कि वे विधायकी के लिए निर्धारित न्‍यूनतम उम्र 25 वर्ष पूरा नहीं कर पाए इसलिए उनकी विधायकी रद्द की जाती है.

अब्दुल्ला आजम रामपुर इलाके की स्वार विधानसभा सीट से 2017 में चुनाव जीते थे और उनका यह पहला चुनाव था. उस समय बीजेपी की लहर थी इसके बावजूद भी अब्दुल्ला अच्छे खासे वोट से विजयी हुई थे, और प्रदेश की विधानसभा में सबसे कम उम्र के विधायक भी बन गये थे, लेकिन अब विधायकी चली गयी वो भी दस्तावेजों में हेराफेरी करने के गुनाह में !

हालाँकि अब देखने वाली बात है कि क्या अब्दुल्ला आजम अपनी ग़लती स्वीकार कर आगे की तैयारी करते हैं या फिर सरकार और प्रशासन को कोसते हुए कोई और कदम उठाते हैं. अब्दुल्ला आजम ने बीजेपी उम्मीदवार लक्ष्मी सैनी को 50 हजार से ज्यादा मतों से हराया था, जबकि बीएसपी के नवाब काजिम अली तीसरे नंबर रहे थे