औरंगाबाद में सुबह सुबह द’र्दना’क हादसा, रेलवे ट्रैक पर सो रहे प्रवासी मजदूरों के ऊपर से गुजर गई मालगाड़ी, 16 की मौ’त

7597

लॉकडाउन के दौरान प्रवासी मजदूरों की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही. आज सुबह सुबह महाराष्ट्र के औरंगाबाद में द’र्दना’क हा’द’सा हो गया जिसमे 16 मजदूरों की मालगाड़ी से क’ट कर मौ’त हो गई. म’र’ने वालों में मजदूरों के बच्चे भी शामिल हैं. इस घटना के बाद प्रशासन में हड़कंप मच गया. इस हादसे में 3 लोग बच भी गए क्योंकि वो पटरी के पास बैठे हुए थे.

दक्षिण मध्य रेलवे के सीपीआरओ के अनुसार ये दर्दनाक घटना करमाड के नजदीक हुई. सभी मजदूर मध्य प्रदेश के रहने वाले थे और एक स्टील फैक्ट्री में काम करते थे. उन्हें औरंगाबाद से अपने गाँव को जाने वाली स्पेशल ट्रेन पकड़नी थी. इसलिए वो जालना से औरंगाबाद पैदल जा रहे थे. रात भर चलने के बाद जब वो थक गए तो पटरी पर ही सो गए. सुबह सुबह एक खाली मालगाड़ी गुजरी और वो उसकी चपेट में आ गए. नींद में होने की वजह से उन्हें बचने का मौका भी नहीं मिल पाया. घटना स्थल तक पहुँचने के लिए मजदूरों ने 45 किलोमीटर का सफ़र तय किया था. ये द’र्दना’क घटना सुबह 5 बजकर 45 मिनट पर हुई.

इस घटना पर रेलवे ने बयान जारी करते हुए कहा है कि ‘ट्रैक पर कुछ मजदूरों को देखकर लोको पायलट ने ट्रेन रोकने की कोशिश की लेकिन तब तक मजदूर उसकी चपेट में आ चुके थे. घटना बदनारपुर और करमाड स्टेशन के बीच परभानी-मनमाड़ सेक्शन की है. घा’यलों को औरंगाबाद सिविल अस्पताल ले जाया गया है. जांच के आदेश दिए गए हैं.’

रेल मंत्री पियूष गोयल ने घटना पर शोक जताते हुए ट्विटर पर लिखा कि ‘आज 5:22 AM पर नांदेड़ डिवीजन के बदनापुर व करमाड स्टेशन के बीच सोये हुए श्रमिकों के मालगाड़ी के नीचे आने का दुखद समाचार मिला. राहत कार्य जारी है, और इंक्वायरी के आदेश दिए गए हैं. दिवंगत आत्माओं की शांति हेतु ईश्वर से प्रार्थना करता हूं.’