सुप्रीम कोर्ट ने अर्नब गोस्वामी को दी बड़ी राहत, कांग्रेस को लगा जोरदार झटका

8074

कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गाँधी पर टिप्पणी करने के बाद कानूनी पचड़े में फंसे रिपब्लिक टीवी के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी को सुप्रीम कोर्ट ने बड़ी राहत दी है और कांग्रेस को जोरदार झटका दिया है. सोनिया गाँधी पर टिप्पणी के बाद देश के अलग अलग हिस्सों में अर्नब गोस्वामी के खिलाफ कांग्रेसी कार्यकर्ताओं और नेताओं ने FIR दर्ज कराई है. अर्नब के खिलाफ 100 से अधिक मुक़दमे दर्ज कराये गए हैं. लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने अर्नब को बड़ी राहत दे दी.

सुप्रीम कोर्ट ने अर्नब के खिलाफ दर्ज हुई सभी FIR पर स्टे लगा दिया है. साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने मुंबई पुलिस कमिश्नर को ये आदेश दिया है कि वो अर्णब और उनके चैनल को सुरक्षा प्रदान करे. सुप्रीम कोर्ट ने अर्नब के खिलाफ नागपुर में दायर एक केस को भी मुंबई ट्रांसफर करने का निर्देश दिया है. सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस को झटका देते हुए अंतरिम आदेश में गोस्वामी के खिलाफ 3 हफ्ते तक किसी कार्रवाई पर भी रोक लगा दी. इस दौरान अर्नब अग्रिम जमानत के लिए अर्जी दायर कर सकते हैं.

सोनिया गाँधी पर टिप्पणी के बाद कांग्रेस नेताओं ने कई थानों में अर्नब के खिलाफ केस दर्ज कराया. अर्णब ने इन शिकायतों को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी. सुनवाई के दौरान अर्णब के वकील मुकुल रोहतगी ने कहा कि ‘मेरे मुवक्किल के खिलाफ महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, राजस्थान, पंजाब, तेलंगाना और जम्मू-कश्मीर में एफआईआर दर्ज की गई है. सभी में लगभग एक जैसी शिकायतें हैं. इस पर कांग्रेस की ओर से पेश हुए वकील कपिल सिब्बल ने कहा, ‘आप ऐसे बयानों का हवाला देकर सांप्रदायिक हिंसा पैदा कर रहे हैं, अगर एफआईआर दर्ज की गई हैं, तो आप इसे ऐसे कैसे रोक सकते हैं? जांच होने दीजिए, इसमें क्या गलत है?

दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने अर्नब गोस्वामी को बड़ी राहत दी और कांग्रेस के वकील का मुंह लटक गया.