AMU में लगे शरजील इमाम के समर्थन में ना’रे

1124

देशभर में CAA के खि’लाफ लगातार वि’रोध प्र’दर्शन चल रहा हैं और इसकी आ’ग दिल्ली के जा’मिया से निकल कर शाहीन बाग़ तक फैल चुकी है. वही देश के बाकी शहरों में भी इसका असर देखने को मिल रहा है . जहां CAA के खि’लाफ JNU से खबरे आती रहती हैं वहीं अलीगढ़ की बहु’चर्चित यूनिवर्सिटी AMU में पिछले 2 महीने से प्र’दर्शन चल रहा हैं. इसी के साथ देश में वि’रोध प्र’दर्शन की वजह से त’नाव का माहौल बना हुआ है.

बता दें बीतें कुछ महीनों से देशभर में CAA के खि’लाफ लगातार वि’रोध प्र’दर्शन किया जा रहा हैं साथ ही देश के खि’लाफ भ’ड़का’ऊ बयान और ना’रेबा’जी भी की जा रहीं है. दरअसल जनवरी में शरजील इमाम को देश के खि’लाफ भ’ड़का’ऊ ब’यान देने और दे’शद्रो’ही के आ’रोप में गि’रफ्तार किया गया था जिसके बाद उसे हि’रासत में लेने के बाद दिल्ली भेज दिया गया हैं. शरजील इमाम पर धा’रा 124 ए के तहत मा’मला दर्ज किया गया है. जिसमें तीन साल तक की स’जा से लेकर आजीवन का’रावा’स तक का प्रावधान है.

इसी के चलते AMU में शरजील इमाम की रि’हाई को लेकर AMU में ना’रेबा’जी की गयी जिसमें छात्रों ने ‘शरजील इमाम को आ’जादी’ और ‘शरजील इमाम को रि’हा करो’ के ना’रे लगाए गए. इसके अलावा छात्रों ने कहा कि यह प्र’दर्शन इसलिए है ताकि हम बता सकें कि AMU में शरजील इमाम के पक्ष में अभी हम जिं’दा हैं, और जो लोग यह सोच रहे हैं कि हम लॉ लेकर आए है, और हमको बोल हैं कि CAA और NRC लागू नहीं किया जायेगा. वो लोग हमे द’बाना चाह रहे है तो उनको ग’लत लगता हैं कि हम चुप बैठे है. तो हम उनको बता दें अभी हम जिं’दा हैं और अभी भी CAA और NRC के खि’लाफ हैं. बता दें AMU में लगातार 2 महीनों से CAA के खि’लाफ प्र’दर्शन चला रहा है और इसी के साथ दिल्ली के JNU और शा’हीन बा’ग़ में भी इसके खि’लाफ प्र’दर्शन चालू हैं.