पुलवामा हमले पर इन लोगों ने मनाया जश्न, AMU पर फिर छिड़ा विवाद

437

कश्मीर के पुलवामा में हमारे जवानों को कुछ दहशतगर्दो ने मारकर अपने नापाक मंसूबों को कामयाब करने में सफल तो हो गये लेकिन अब घर में बैठे ही कुछ लोग नमक छिडकने का काम कर रहे हैं….. आतंकी घटना में देश के लगभग 42 जवान शहीद हो गये हैं.. इस बड़ी घटना को अंजाम देने वाला आतंकी संगठन जैश ए मुहम्मद हैं जिसका सरगना पाकिस्तान में बैठकर भारत के खिलाफ साजिशें रचता हैं.
इस आतंकी घटना से कई परिवारों के चिराग बुझ गये…कई बहनों की मांग सुनी हो गयी.. कई बच्चे अनाथ हो गये… कई माँ बाप के सामने उनके बेटे शहीद हो गये.. लेकिन देश में बैठे कुछ लोग पूछ रहे हैं हाउ द जोश?
पाकिस्तान में अंदर अंदर ही इस आतंकी घटना की सफलता का जश्न मनाया जा रहा होगा… लेकिन जब भारत के इन बहादुर जवानों की निर्मम हत्या कर दी गयी…वो भी उस वक्त जब जवान घर से छुट्टी मना कर वापस ड्यूटी पर जा रहे थे तब ……. भारत के कुछ लोगों ने खुशियाँ मनाई है… आतंकियों के नापाक मंसूबो के सफल होने पर उन्होंने सोशल मीडिया के जरिये बेहद शर्मनाक हरकत की है.
सोशल मीडिया के जरिये एक लड़के का ट्वीट सामने आया है जिसमें ये लड़का पूछता है हाउ द जोश! इसके आगे वो लिख रहा है ग्रेट सर… साथ साथ उसने कश्मीर और पुलवामा का हैसटैग भी दिया है. इससे तो साफ़ हो जाता है ये लड़का साफ़ साफ़ कश्मीर में हुए आतंकी घटना को लेकर ही ट्वीट किया है. हमने जब इस लड़के की प्रोफाइल को चेक किया तो पता चला कि amu से मैथमेतिक्स कर रहा है. प्रोफाइल से ही पता चलता है कि ये जम्मू कश्मीर का ही रहने वाला है. ये लड़का भारत के उत्तर प्रदेश के amu में पढ़कर कश्मीर में हुए जवानों की हत्या पर इस तरह की ट्वीट कर रहा है… हालाँकि हमें ये कहने में कोई गुरेज नही है कि ऐसी हरकत करने वाले या तो मानशिक रूप से ठीक नही हैं या फिर वे देश के दुशमन हैं…सिर्फ यही नही बड़ी संख्या में इस तरह के ट्वीट सामने आ रहे हैं…आपको याद हो कि हाल ही में सर्जिकल स्ट्राइक पर बनी फिल्म उरी में जवानों का उत्साह बढ़ने के लिए हाउद जोश पुछा जा रहा था जोकि खूब वायरल हुआ था.
इसी के साथ एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है…जिसमें कुछ लोग जश्न मना रहा हैं.. पटाखा जलाया जा रहा है… नारे लगाये जा रहे हैं… बताया जा रहा है कि ये वीडियो कश्मीर का है. यह जश्न तब मनाया गया जब भारतीय जावानों के काफिले में जैश इ मुहम्मद के आतंकी हमला करने में सफल हो गये…..

पुलवामा में हुई आतंकी घटना ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है. इस घटना के सामने आने के बाद पूरे देश में गम का माहौल हैं ऐसे में देश के कुछ लोग इस तरह जश्न मना रहे हैं. देश के अंदर बैठे ऐसे लोगों पर पुलिस द्वारा कार्रवाई होनी चाहिए और ऐसी कार्रवाई होने चाहिए जिससे कोई फिर दोबारा इस तरह की हरकत करने की जुर्रत ना कर पाए.
ये तो रहे गद्दार लेकिन उनका क्या किया जाये तो नेता आज पाकिस्तान के बचाव में उतर आये हैं. क्या वे इन लोगो से कम गुनहगार हैं.
आपको बता दें कि सीआरपीएफ के जवानों का काफिला कश्मीर के पुलवामा से होकर गुजर रहा था. इसी दौरान लगभग 200 किमी आइईडी से लदी कार से आतंकी ने सेना की बस पर हमला कर दिया. जिसके बाद एक बड़ा ब्लास्ट हुआ और बस के परखच्चे उड़ गये पूरी बस तहस नहस हो गयी..जवानों के शरीर के टुकड़े इधर इधर फैल गये… इधर जवानों के काफिले शामिल अन्य जवान कुछ समझ पाते कि आतंकियों ने जवानों पर फायरिंग भी कर दी…मिली जानकारी के मुताबिक़ अभी तक कुछ 42 जवान शहीद हो चुके हैं. वहीँ भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने एक भाषण के दौरान कहा है कि सेना को खुली छूट मिल गयी है.
हालाँकि कुछ आतंकी बार्डर पार से आतें हैं। उनके हाथ में बम,बंदूक आरडीएक्स है। कुछ बॉर्डर के भीतर आतंकी हैं,जिनके पास बम बन्दूक नहीं..घर,गाड़ी और पैसा है..ये बाहर वालों की मदद करतें हैं।
तीसरे वो हैं जिनके पास बम,बन्दूक,घर,गाड़ी, आरडीएक्स कुछ नहीं।
इनके हाथ में कलम,अख़बार और माइक है..और ये हमला नहीं करते..ये दोनों की बौद्धिक सुरक्षा करतें हैं..इनके हर कृत्य को मानवाधिकार का हनन बताते हुए चूड़ियाँ तोड़तें हैं और आम लोगों के दिल में इन अलगाववादीयों,आतंकियों के लिए संवेदना पैदा करतें हैं…
अब पूरा देश इस बात का इन्तजार कर रहा है कि किस तरह सेना के जवान इस कायरतापूर्ण हमले का बदला लेते हैं. और घर में पनप रहे ऐसे लोगों पर कार्रवाई होती है.