राजस्थान से गरजे अमित शाह, अगर राहुल बाबा ने CAA नहीं पढ़ा तो इटैलियन…

1097

नागरिकता संशोधन एक्ट के खिलाफ जारी विरोध के बीच भाजपा ने इसके समर्थन में लोगों के बीच जाना शुरू कर दिया है. इसी सिलसिले में आज गृहमंत्री अमित शाह ने राजस्थान के जोधपुर में एक जनसभा को संबोधित किया और विपक्ष पर जोरदार हमला किया. विपक्ष पर हमला करते हुए अमित शाह ने ये साफ़ भी कर दिया कि चाहे जितना भी विरोध की साजिश कर ले विपक्ष लेकिन भाजपा इस क़ानून पर एक कदम भी पीछे नहीं हटेगी.

गृहमंत्री अमित शाह ने राहुल गाँधी पर भी हमला करते हुए उन्हें CAA पर बहस करने की चुनौती दी. उन्होंने कहा कि अगर राहुल गाँधी ने क़ानून को पढ़ा है तो इस पर बहस कर लें. अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस, ममता दीदी, एसपी, बीएसपी, केजरीवाल एंड कंपनी सभी इस कानून का विरोध कर रहे हैं.  इन सभी को मैं चुनौती देता हूं कि वो साबित करें इससे किसी अल्पसंख्यक को नुकसान होगा. उन्होंने राहुल गांधी को चुनौती देते हुए कहा कि राहुल बाबा, अगर कानून पढ़ा है तो इसपर चर्चा करने के लिए आ जाइए. अगर नहीं पढ़ा है तो मैं आपको इटली भाषा में इसका ट्रांसलेशन भेजने के लिए तैयार हूं.

अमित शाह ने कहा कि सारी पार्टी एक हो जाएं, बीजेपी CAA पर एक इंच भी वापस नहीं आएगी. उन्होंने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि पाकिस्तान-बांग्लादेश-अफगानिस्तान से जो हिंदू, जैन, बौद्ध, सिख, ईसाई और पारसी अल्पसंख्यक आये तो कांग्रेस ने वोटबैंक की डर से उनके लिए कुछ नहीं किया. लेकिन नरेंद्र मोदी 56 इंच की छाती वाले हैं वह किसी से नहीं घबराते हैं. जितना भी भ्रम फैलाना है, फैला लो. लेकिन हम इस कानून पर पीछे नहीं हटेंगे.