इस बड़े चेहरे पर दिल्ली का चुनाव लड़ेगी भाजपा, अमित शाह ने किया बड़ा इशारा

2378

भाजपा ने दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए अपनी तैयारियां शुरू कर दी है. पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने रविवार को बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित किया और दिल्ली चुनाव में जी जान से जुट जाने का आह्वान किया. उन्होंने कहा कि सभाओं और रैलियों से भाजपा चुनाव नहीं लड़ेगी बल्कि घर घर जा कर और मोहल्ला मीटिंग के जरिये भाजपा चुनाव लड़ेगी और फ़रवरी में दिल्ली में सरकार बनायेगी.

किसी चेहरे को आगे नहीं करेगी भाजपा ?

हालाँकि दिल्ली का मुख्यमंत्री कौन होगा इसको लेकर अमित शाह ने पत्ते नहीं खोले और इशारा किया कि ब्रांड मोदी के नाम और चेहरे पर ही अरविन्द केजरीवाल को चुनौती दी जायेगी. उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में दिल्ली में बीजेपी की सरकार बनेगी. ये कह कर अमित शाह ने ये साफ़ इशारा कर दिया है कि वो दिल्ली में किसी चेहरे को आगे कर के चुनाव लड़ने नहीं जा रहे. चेहरे को आगे कर चुनाव लड़ने का खामियाजा उन्होंने हरियाणा, झारखण्ड और महाराष्ट्र के विधानसभा चुनावों में देख लिया है, जहाँ भाजपा की सीटें घट गई. हरियाणा और महाराष्ट्र में तो भाजपा को सत्ता से बाहर होना पड़ा. हालाँकि दिल्ली में वो पिछले 20 सालों से सत्ता से बाहर है.

किसी चेहरे को आगे कर चुनाव न लड़ने का इशारा कर अमित शाह ने दिल्ली भाजपा के उन नेताओं की उम्मीदों को चकनाचूर कर दिया है जो खुद को मुख्यमंत्री के उम्मीदवार के तौर पर देख रहे थे. विजय गोयल, मनोज तिवारी, हर्षवर्धन जैसे नेताओं को निराशा हाथ लगी होगी.

बूथ कार्यकर्ता सम्मलेन के दौरान अमित शाह ने कांग्रेस और अरविन्द केजरीवाल पर जोरदार हमले किये. उन्होंने कहा कि जनता को कोई झांसा सिर्फ एक बार दे सकता है, बार-बार नहीं दे सकता. एक बार केजरीवाज जी ने झांसा दे दिया. उसके बाद नगर निगम के चुनाव हुए तो आप पार्टी का सूपड़ा साफ हो गया. लोकसभा के चुनाव हुए तो आप पार्टी का सूपड़ा साफ हुआ और भाजपा का झंडा लहराया.

उन्होंने ये भी कहा कि बीजेपी को चुनाव सभाओं से नहीं लड़ना है, बल्कि घर-घर जाकर लड़ना है. मोहल्ला मीटिंग करके लड़ना है. इस मोहल्ला मीटिंग की शुरुआत मैं ही करने जा रहा हूं.