अमित शाह ने बताया इन लोगों ने करवाए CAA पर दंगे…

1146

हाल ही में झारखंड विधानसभा चुनाव के नतीजे आये और देश की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी भाजपा को उम्मीद के मुताबिक परिणाम हासिल नहीं हुए. झारखंड में सत्ता छिनने के बाद भाजपा अब डैमेज कंट्रोल करने की कोशिश में लगी हुई है, या कोई और वजह हो सकती है. मगर अब दिल्ली के लिए अमित शाह ने एक बार पुनः कमर कस ली है. इसी के चलते पार्टी दिल्ली की गद्दी हासिल करने की जीतोड़ कोशिश में जुट गई है.

पार्टी अध्यक्ष अमित शाह दिल्ली के चुनाव को एक मौके की तरह देख रहे हैं इसलिए उन्होंने कार्यकर्ताओं में जोश भरने के लिए इंदिरा गांधी स्टेडियम में एक कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित किया। अपने इस संबोधन के दौरान वो दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर भी खूब जमकर बरसे और उन्होंने केजरीवाल पर आरोपों की बौछार कर दी. अपने कार्यकर्ताओं को दिए गए जोशीले भाषण में उन्होंने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के मुद्दे पर कांग्रेस को भी घेरा अमित शाह ने कहा कि राहुल और प्रियंका गांधी ने सीएए पर जनता को गुमराह करने का काम किया है.

उन्होंने अपनी बात पर जोर देते हुए कहा -”राहुल बाबा और प्रियंका वाड्रा ने दंगे करवाए”
इसके साथ ही अमित शाह ने सीएए के विरोध में दिल्ली में हुए हिंसक प्रदर्शनों के दौरान फैली हिंसा के लिए कांग्रेस और आम आदमी पार्टी को दोषी भी ठहराया माइक से जोरदार आवाज में दहाड़ते हुए उन्होंने कहा, ‘सीएए को लेकर जनता को गुमराह करने का काम किया गया। कांग्रेस पार्टी के चाहते राहुल बाबा और प्रियंका वाड्रा ने नागरिकता संशोधन कानून पर देश की भोली भाली जनता को गुमराह कर दंगे करवाने का काम किया है.

कांग्रेस के समय ही 1984 में सिखों का नरसंहार हुआ जिसमें कई सिख भाई-बहनों का खुलेआम कत्ल किया गया. उस वक्त कांग्रेस की सरकारें उन लोगों के घावों पर कोई मरहम नहीं लगाती थीं. लेकिन मोदी सरकार ने हर पीड़ित व्यक्ति को 5-5 लाख रुपये का मुआवजा देने का काम किया और जो दोषी पाए गए थे उन्हें जेल की सलाखों के पीछे डालने का काम किया’ .