बच्चों के भ’विष्य को ध्यान में रखते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने लॉकडाउन में बोर्ड परीक्षाओं के लिए दी वि’शेष छू’ट

2082

कोरोना की वजह से देशभर में स्थिति ख़’राब है. जिसके कारण सभी कामकाज तो ठ’प हुए ही है. साथ ही इसका असर बच्चों की पढाई पर भी हुआ है. दरअसल जिस वक्त देशभर में लॉकडाउन किया गया था. तब 10 और 12वीं के बच्चों की बोर्ड परीक्षाये चल रही थी. जिसकी वजह से बीच में ही परीक्षाये रो’क दी गयी. हालाँकि 1 से लेकर 9 और 11 वीं के बच्चों को आगे की क्ला’स में प्रो’मोट कर दिया गया है. लेकिन 10 और 12वी के बच्चों की बची हुई परीक्षाये होना अभी बाकी है.

जिसके लिए छात्रों के भवि’ष्य का ध्यान रखते हुए सी’बीएसई ने भी बचे हुए ए’ग्जाम की डे’टशीट जारी कर दी है. इसी बीच गृह मंत्रालय ने भी बोर्ड की परीक्षाओं को लॉकडाउ’न से छू’ट देते हुए कुछ नि’र्देश जारी किए हैं. गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वी’ट करते हुए कहा कि स्टूडें’ट्स के भ’विष्य का ध्यान रखते हुए बोर्ड के ए’ग्जाम कराने के लिए बोर्ड को लॉकडाउन में छू’ट दी जा रही है लेकिन सोशल डि’स्टैंसिंग के नि’यमों का पा’लन करना अनिवा’र्य होगा.

इसके साथ ही गृह सचिव अजय भल्ला ने सभी राज्यों और सीबीएसई/ICSE को पत्र लिखकरा कहा है कि बड़ीं सख्या में स्टूडेंट्स के हि’तों का ध्यान रखते हुए लॉकडाउन में परीक्षाएँ करवाने की छू’ट दी जा रही है. और स्कूलों और बोर्ड को इन गाइडलाइंस का ध्यान रखना होगा.

  1. किसी भी कं’टेनमेंट जोन में परीक्षा का केंद्र न बनाया जाए.
  2. कर्मचारियों, शिक्षकों, निरीक्षकों और स्टूडेंट्स के लिए फेस मास्क पहनना अ’निवार्य होगा.
  3.  परीक्षा केंद्रों पर थर्म’ल स्क्री’निंग और सैनिटाइ’जर की व्यवस्था होनी चाहिए.
  4.  कई बोर्ड की परीक्षाएं एक साथ होंगी इसलिए शेड्यू’ल को अलग-अलग रखा जाए.
  5. राज्य और केंद्रशा’सित प्रदेश स्टूडेंट्स के लिए स्पे’शल बसों की व्यवस्था कर सकते है.

जाहिर है जारी की गयी इन गाइडलाइन्स के साथ ही बच्चों की बची हुई सभी परीक्षाये ली जाएंगी. साथ ही निय’मों का पालन करना भी अनिवा’र्य होगा.