अमेरिका में ब’वाल, हिं’सा की आ’ग में झु’लसे 25 शहरों में लगा कर्फ्यू, बंद करना पडा व्हाइट हाउस, ये है पूरा मामला

11914

कोरोना से जूझ रहे अमेरिका में नयी आफत आई है. देश में ब’वाल मचा हुआ है. 25 शहर हिं’सा की आ’ग में जल रहे हैं. सड़कों पर दं’गाइ’यों का कब्ज़ा है और दुकानों में जमकर लू’टपा’ट हो रही है. सरकारी इमारतों और पुलिस की गाड़ियों में आ’ग लगाई जा रही है. पूरा अमेरिका धू धू कर ज’ल रहा है. न्यूयॉर्क, लॉस एंजल्स, कैलिफोर्निया और वाशिंगटन में हालात ख़राब है. वाशिंगटन में प्रदर्शनकारी व्हाइट हाउस तक पहुँच गए जिसके बाद व्हाइट हाउस को बंद करना पड़ा और सुरक्षा कड़ी कर दी गई. मिन्नेसेटा और जोर्जिया राज्य में इमरजेंसी का ऐलान करना पड़ा.

दरअसल सोमवार को पुलिस कस्टडी में एक अश्वेत व्यक्ति जॉर्ज फ्लायड की मौ’त हो जाने के बाद उसे इंसाफ दिलाने की मुहीम शुरू हुई और देखते ही देखते अमेरिका हिं’सा की आ’ग में झु’लस गया. अमेरिका में गोरे और काले लोगों के बीच का मुद्दा एक बार फिर सिर उठाये खड़ा हो गया. गोर लोगों द्वारा अश्वेतों पर अ’त्याचा’र ने लोगों को भ’ड़का दिया. सोशल मीडिया पर जॉर्ज फ्लायड की मौ’त का वीडियो वायरल हो रहा है. वायरल वीडियो में जॉर्ज जमीन पर गिरा हुआ है और एक पुलिसकर्मी उसकी गर्दन को अपने घुटने से दबाये हुए है. जॉर्ज कहता है कि उसे सांस लेने में दिक्कत हो रही है लेकिन पुलिसवाला उसकी बात नहीं सुनता और जॉर्ज की मौ’त हो जाती है. इस वीडियो के वायरल होने के बाद लोगों का गुस्सा भ’ड़क गया और अमेरिका हिं’सा की आ’ग में जल उठा.

शनिवार को दं’गों का पांचवा दिन था. 25 शहरों में दं’गों की वजह से कर्फ्यू लगाना पड़ा. जॉर्ज पर नकली अमेरिकी डॉलर की सप्लाई का आरोप लगा था. लोगों का कहना है कि जॉर्ज की ह’त्या के आरोप में पुलिसकर्मियों पर ह’त्या का मुकदमा चलना चाहिए. कुल मिला कर पहले से ही कोरोना से त्रस्त अमेरिका इस वक़्त नयी परेशानी से जूझ रहा है.