आम्रपाली में घर खरीदने वालों को सुप्रीम कोर्ट ने दी बड़ी राहत, जल्द शुरू होंगे रुके प्रोजेक्ट

126

कोर्ट में आम्रपाली ग्रुप को लेकर मामला चल रहा है. जिस पर पिछले साल 23 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए आदेश में आम्रपाली ग्रुप का रजिस्ट्रे’शन कैं’सल कर दिया गया था और कहा गया था कि आम्रपाली के पेंडिं’ग प्रोजेक्ट सरकारी कंपनी एनबीसीसी पूरा करेगी. साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने आम्रपाली का ली’ज भी कैंस’ल कर दिया था.

जिस पर आज सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने होम बॉयर्स को राहत दी है साथ ही कोर्ट ने बैंकों को आदेश दिए है कि वो बॉयर्स के होम लोन के बैलेंस को रिलीज करे ताकि आम्रपाली के रुके हुए प्रो’जेक्ट का काम हो सके. बता दें सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस अरुण मिश्रा और जस्टिस यूयू ललित की अगुवाई में बेंच ने आम्रपाली के रुके हुए प्रोजेक्ट को देखते हुए आदे’श दिया है. इसके अलावा इस मामले में अगली सुनवाई 17 जून को होनी है.

बता दें कोर्ट ने आदेश में बैंकों और वि’त्तीय संस्थानों से कहा है कि उन्होंने जिन लोन को एनपीए में डाल दिया है उसे भी आरबीआई के गाइड’लाइंस के तहत रिलीज किया जाए. साथ ही होम बॉयर्स का लोन रिलीज़ किया जाए ताकि अधूरे प्रो’जेक्ट को पूरा किया जा सके. इसके अलावा कोर्ट ने कहा कि नोएडा और ग्रेटर नोएडा में जिन लोगो ने घर लिए है. वो वैसे के वैसे ही है. आम्रपाली के प्रोजेक्ट में कोई प्रग’ति नहीं हुई है.

इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने आम्रपाली बिल्डर को राहत देते हुए कहा है कि नोएडा अथॉरि’टी और ग्रेटर नोएडा अथॉरि’टी अपने बकाया पर भारी ब्याज नहीं ले सकते और जो कि’श्त अ’दायगी में देरी हुई है उसके ब्या’ज के तौर पर 8 फीसदी से ज्या’दा रकम भी न ली जाये.

जाहिर है इस मामले में अगली सुनवाई 17 जून को होनी है लेकिन उससे पहले कोर्ट ने बॉयर्स और आम्रपाली बिल्डर को बड़ी राहत दी है.