अमर सिंह ने अमिताभ बच्चन को भेजा सन्देश, कहा ‘मर रहा हूँ मुझे…’

5695

समाजवादी पार्टी के पूर्व कद्दावर नेता और राज्यसभा सासंद अमर सिंह की मौजूदा हालात काफी खराब चल रही है. अमर सिंह जिंदगी और मौत की लड़ाई लड़ रहे है. अमर सिंह को किडनी की दिक्कत है. वो अपना इलाज सिंगापुर में करवा रहें है. जीवन और मौत से लड़ रहे अमर सिंह ने कल शहनशाह, बिग-बी और भी कई अनेक नामो से जानने वाले अमिताभ बच्चन से और उनके पूरे परिवार से माफ़ी मांगी है.

अमर सिंह ने कभी अपने पक्के दोस्त रहे बॉलिवुड़ ऐक्टर अमिताभ बच्चन से माफ़ी मांग ली है. गंभीर रूप से बीमार चल रहे अमर सिंह ने कहा कि ‘वह जिंदगी की जंग लड़ रहे हैं और जीवन के इस मोड़ पर अमिताभ से माफी मांगते हैं. एक ट्वीट के जरिए अमर सिंह ने अमिताभ बच्चन के नाम एक माफीनामा जारी किया है. अमर सिंह आगे कहा कि ‘अमिताभ बच्चन से रिश्तों में मेरी तल्खी रही है. उसके बावजूद भी अमिताभ ने हमेशा अपना कर्तव्य या कहें की फर्ज निभाते आये हैं. दरअसल, नफरत को बढ़ाने का काम खुद मैंने किया है’ ऐसा कहना था अमर सिंह का.

अमर सिंह ने आगे लिखा है, ‘आज मेरे पिता की पुण्यतिथि है और मुझे इसी को लेकर अमिताभ बच्चन जी का एक मेसेज मिला. आज जीवन के इस वक्त में जब मैं जिंदगी और मौत से लड़ रहा हूं, मैं अमित जी और पूरे परिवार पर जो मैंने टिप्पणियां की है. उनको लेकर मैं आज माफी मांगना चाहता हूं. ईश्वर उन सभी पर अपना आशीर्वाद बनाए रखे.’

कभी बच्चन परिवार के बेहद करीबी माने जाने वाले अमर सिंह जो अमिताभ को राजनीति में लेकर आये थे. एक वक्त तक अमर सिंह अमिताभ के बहुत करीबी माने जाते थे. अमर सिंह ने जीवन के उस मोड़ पर आकर शायद उनको आज अपनी गलती का एहसास हुआ है. इसी वजह से अमर सिंह ने कहा, ‘आज के दिन मेरे पूज्य पिताजी का स्वर्गवास हुआ था. पिछले हर साल की तरह आज भी इस तारीख को, जिस दिन मेरे पिताजी का स्वर्गवास हा था तब से लेकर आज तक अमिताभ बच्चन संदेश भेजते आयें हैं. अमर सिंह ने आगे कहा कि ‘जब दो व्यक्तियों में बहुत स्नेह और प्यार होता है. उसमें कुछ कम या अधिक अपेक्षाएं या उपेक्षाएं होती हैं. उन संबंधों में बहुत उबाल आता है और बहुत उग्र प्रतिक्रियाएं होती हैं. संबंध जितना अधिक निकट होता है, उसकी टूट की चुभन भी उतनी अधिक नुकीली होती है.’

अमर सिंह ने संसद में अमिताभ बच्चन की पत्नी और सपा से सांसद जया बच्चन संसद भवन में महिला अपराधों पर भाषण दे रही थी तब उसके उपर संसद में अमर सिंह ने अमिताभ को लेकर उनकी एक पिक्चर का गाना था.जिसके बोल थे ‘जुम्मा चुम्मा’ ना करें. कहते है की इंसान को अपनी गलती का एहसास कभी न कभी हो ही जाता है. तो आज अमर सिंह को अपनी की हुई गलती या फिर टिप्पणी पर आज पछतावा है.