NDA से अलग होते ही LJP में मची महाभारत, चिराग पासवान के निजी सचिव के ऊपर लगा ये सं’गीन आ’रोप

बिहार में विधानसभा चुनावो की तारी’खों का ऐ’लान हो चुका है. जिसके साथ ही आ’रोप प्रत्या’रोप का सिलसिला भी जारी है. वही बिहार विधानसभा चुनावो को देखते हुए एनडीए ने अपनी सीटो का ऐलान कर दिया है. एनडीए में जेडीयू 122 सीटों पर और बीजेपी 121 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. वहीं, जेडीयू ने हम को 7 सीटें दी हैं जबकि बीजेपी ने वीआईपी को अपने कोटे से 11 सीटें दी हैं.

बात करें एनडीए की तो उनमे भी खीं’चता’न जारी है. क्योंकि एनडीए का हिस्सा रही एलजेपी जिसका इस बार सीट बंटवारे को लेकर बात नही बन पाई है. जिसके बाद उसने अपने को अलग कर लिया है. चिराग पासवान ने कहा था कि हम जेडीयू का वि’रो’ध करेंगे लेकिन पीएम मोदी के नाम पर वोट मांगेंगे और वो हमारे रोल मॉडल हैं. जिसके बाद जेडीयू ने बीजेपी से इस पर तस्वीर साफ करने को कहा था. जिसपर बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने कहा था कि जो एनडीए का हिस्सा रहेगा वही पार्टी पीएम मोदी के नाम का इस्तेमाल चुनाव प्रचार में कर पायेगी. इसके अलावा कोई करता है तो उस पर ए’फ’आ’ई’आ’र द’र्ज की जायेगा.

बिहार की राजनीति में हर पल नया मोड़ आता रहता हैं. बता दें की चिराग पासवान की पार्टी को एक और बड़ा झ’ट’का लगा है. अब एलजेपी के बिहार यूनिट के तकनीकी प्र’को’ष्ठ के अध्यक्ष निरंजन सिंह ने इस्तीफा दे दिया है. उनके इस्तीफे के बाद एक और सनसनीखेज खुलासा हुआ है. चिराग पासवान के निजी सचिव सौरभ पाण्डेय पर टिकट बेचने का आरोप लगा है. जिसके बाद जेडीयू ने एलजेपी पर चुटकी ली है.

Related Articles