एलन मस्क की प्राइवेट रॉकेट कंपनी स्पेस एक्स ने रचा इतिहास,लेकिन थोड़ी देर बाद ही इसमें विस्फोट हो गया

एलन मस्क की प्राइवेट रॉकेट कंपनी स्पेस एक्स ने इतिहास रच दिया है. स्पेस एक्सप्लोरेशन टेक्नोलॉजीस कोर्पोरेशन स्पेस एक्स का नया और सबसे बड़ा रॉकेट अपनी तीसरी टेस्ट फ्लाइट में सफलतापूर्वक लैंड हो गया था. लेकिन थोड़ी देर बाद ही इसमें विस्फोट हो गया और ये आग का गोला बन गया. बुधवार को अमेरिका के टेक्सास में स्थित स्पेसएक्स की बोला चिका स्थित कंपनी से मार्स बाउंड स्टारशिप एसएन10 स्पेसक्राफ्ट को शाम 5:15 बजे लॉन्च किया गया था. इसका एक वीडियो भी स्पेसएक्स ने अपनी वेबसाइट पर जारी किया है.

लैंड पैड को छूने से पहले रॉकेट ने 10 किलोमीटर की ऊंचाई तक उड़ान भरी थी.एसएन 10 उच्च ऊंचाई पर उड़ान भरने के बाद लैंडिंग हासिल करने वाला पहला स्टारशिप प्रोटोटाइप बन गया था. वहीं नासा स्पेसफ्लाइट के यूट्यूब चैनल पर भी एसएन 10 का लाइव लॉन्च दिखाया गया था. इसकी सफलतापूर्व लैंडिंग मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) एलन मस्क के लिए एक कदम आगे बढ़ने जैसी थी, जिसके तहत वह वह साल 2023 तक 12 लोगों को चांद पर भेजेंगे. इस योजना के तहत अंतरिक्षयात्रियों को चांद की सतह तक पहुंचाना और फिर मंगल पर भेजना शामिल है.

मस्क कहते हैं कि वे मंगल ग्रह पर एक बेस बनाने में अपनी पूंजी का सबसे बड़ा हिस्सा लगाना चाहते हैं और उन्हें कोई आश्चर्य नहीं होगा अगर उन्होंने इस मिशन को सफल बनाने में अपनी सारी पूंजी लगा दी.मंगल ग्रह पर मनुष्यों का एक बेस, मस्क की नज़र में बहुत बड़ी सफलता होगी.वे मानते हैं कि ‘इससे भविष्य बेहतर होगा.’ मस्क ने कहा था, “मैंने कंपनी इसलिए बनाई क्योंकि मैं इस बात से असंतुष्ट था कि अमेरिकी स्पेस एजेंसी अंतरिक्ष अन्वेषण को लेकर और महत्वकांक्षी क्यों नहीं है, वो क्यों और आगे का नहीं सोच पा रही. मैं उम्मीद करता हूँ कि भविष्य में चाँद और मंगल ग्रह पर हमारा बेस हो और वहाँ के लिए लगातार फ़्लाइट्स चलें.”

Related Articles