अगर आपने भी 25 मार्च से 14 अप्रैल के बीच की बुक की हैं एयरलाइन टिकट तो आपके लिए बड़ी खुशखबरी है!

कोरोना के लगातार बढ़ रहे प्रकोप के चलते लॉकडाउन को 3 मई तक के लिए आगे बढ़ा दिया गया है. पीएम मोदी ने देश को संबोधित करते हुए पहले तो लॉकडाउन के मायने बताये और फिर इसे आगे बढ़ाना ही सही समझा. पीएम मोदी ने आगे कहा कि अगर लॉकडाउन को न जारी किया गया होता तो स्थिति और भी बढ़ा रूप ले सकती थी. सरकार लॉकडाउन के चलते जनता को एक के बाद एक बड़े तोहफे और राहत दे रही है जिससे लोगों को परेशानी न उठानी पड़े.

जानकारी के लिए बता दें पीएम मोदी द्वारा पूरे देश में 3 मई तक के लिए बढाए गये लॉकडाउन के बाद भारतीय रेलवे ने भी पैसेंजर ट्रेनों को रद्द करने का निर्णय लिया. वहीँ इसी बीच एयरलाइनों की टिकट करवाने वाले यात्रियों को लेकर बड़ी खबर आ रही है. अगर आपने भी 25 मार्च से 14 अप्रैल के बीच एयरलाइन टिकट बुक की है तो ये आपके लिए खुशखबरी है.

दरअसल 25 मार्च से 14 अप्रैल के बीच एयरलाइन की टिकट बुक करने वालों को सरकार ने बड़ी राहत दी है. इस अवधि के बीच टिकट करवाने वाले यात्रियों को उनका पूरा पैसा वापस मिलेगा. सरकार ने एयरलाइनों को इससे जुड़े दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं. अगर इस बीच आपने भी टिकट बुक की है तो आपके अब कैंसलेशन चार्ज नही कटेंगे.

गौरतलब है कि सरकार के निर्देश के अनुसार एयर लाइनें लॉकडाउन के दौरान डोमेस्टिक और इंटरनेशनल दोनों प्रकार की विमान यात्राओं का टिकट बुक कराने वाले ग्राहकों को दी श्रेणियों में बांटते हुए उनकी राशि रिफंड करेंगी. जिसमें पहली श्रेणी में वो यात्री आयेंगे जिन्होंने लॉकडाउन की अवधि में 25मार्च-14 अप्रैल के दौरान यात्राओं की टिकट बुकिंग कराई हो. एयरलाइन कंपनियों को रिफंड आवदेन के बाद तीन सप्ताह के अंदर देना होगा. वहीँ दूसरी श्रेणी में वो लोग आयेंगे जिन्होंने 15 अप्रैल-3 मई तक की यात्राओं के लिए टिकट की होंगी. इस दौरान लॉकडाउन की अवधि बढ़ने के चलते रद्द हुई फ्लाइट का पूरा रिफंड यात्रियों को दिया जायेगा. इसके पीछे की वजह ये है कि बुकिंग करा चुके हजारों यात्री ने ट्वीट कर विमानन मंत्रालय से शिकायत करना शुरू कर दिया जिसके चलते ये फैसला लिया जायेगा.