CAA के खि’लाफ प्र’दर्शन कर रहे थे 5 विदेशी, मोदी सरकार ने कर दिया अपने घर भेजने का फ’रमान जारी

209

देशभर में CAA और NRC को लेकर लगातार वि’रोध प्र’दर्शन चल रहा है. जिसकी वजह से देश में त’नाव की स्थि’ति बनी हुई है वहीं CAA के नाम पर दिल्ली के उत्तर पूर्वी इ’लाकों में हिं’सक प्र’दर्शन हुआ जिसके बाद त’नाव और बढ़ गया. वहीं दिल्ली के JNU, जा’मिया और अलीगढ़ के AMU में भी इसका वि’रोध प्र’दर्शन देखने को मिला जिसके बाद केंद्र सरकार ने यह कई बार साफ़ कर दिया है कि उनके इ’रादे वि’रोधियों की ह’रक’तों से कही ज्यादा मजबूत है. जिसके बाद वि’पक्ष ने कई बार बीजेपी पर नि’शाना सा’धने की कोशिश की है.

CAA के नाम पर हो रहे रहे वि’रोध प्र’दर्शन को लेकर दूसरे देशो में भी इसका वि’रोध देखने को मिल रहा है जिस पर भारत ने साफ़ कर दिया है कि यह भारत का आं’तरिक मा’मला है इस पर किसी और देश को ह’स्त’क्षेप करने की जरूरत नहीं है. वही CAA के वि’रोध में आये 5 विदेशी ना’गरिकों को भी देश छोड़ने का आ’देश दे दिया गया. यह आदेश ब्यूरो ऑफ इ’मि’ग्रेशन ने दिया जिसमे उन्होंने कहा कि यह वीजा नियमों का उ’ल्लंघन है इस लिए उन 5 विदेशियों को देश छोड़ने के लिए कहा गया है.

बता दें केंद्रीय गृह राज्य मंत्री ने लोकसभा में एक लिखित जवाब में कहा कि ब्यूरो ऑफ इमिग्रेशन के अनुसार पांच विदेशी ना’गरिक CAA के खि’लाफ प्र’दर्शन में शामिल है और यह वीजा नियमों का उ’ल्लं’घन माना है. जिसके अंतर्गत उन्हें भारत छोड़ने के लिए कहा गया है. जिसके आधार पर यह मानना होगा कि भारत की सं’प्रभु’ता से जुड़े मु’द्दों पर किसी वि’देशी प’क्ष का कोई अ’धिकार नहीं है. जिसके अं’तर्गत भारत के किसी भी मा’मले में कोई भी ह’स्तक्षे’प नहीं कर सकता है और CAA और NRC भारत का मु’द्दा है. जिस पर कोई भी विदेशी उं’गली नहीं उठा सकता. गौरतलब है CAA को लेकर लोग जम कर वि’रोध करने में लगे हुए है. लेकिन फिर भी उनकी सारी को’शिशे सरकार के फै’सले के आगे अ’स’फल होती नज़र आ रही है.