मनोज तिवारी के बाद इन नेताओं का नाम आ रहा है सबसे आगे, बनाया जा सकता है नया दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष

8265

दिल्ली में हुए विधानसभा चुनावों में बीजेपी ने चुनाव जीतने के लिए आखिरी दम तक जमकर प्रचार-प्रसार किया. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह समेत कई दिग्गज नेताओं ने खुद प्रचार-प्रसार का जिम्मा उठाया और लोगों से सीधा जम्सम्पर्क अभियान चलाया इसके बावजूद भी बीजेपी अच्छा प्रदर्शन नहीं दिखा पाई और आम आदमी पार्टी ने पूर्ण बहुमत के साथ प्रचंड बहुमत हासिल किया. जिसके बाद अरविंद केजरीवाल ने लगातार तीसरी बार सीएम पद की शपथ ली.

जानकारी के लिए बता दें दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 में मिली करारी हार के बाद अब बीजेपी अपनी हार की समीक्षा करते हुए नए प्रदेश अध्यक्ष की तलाश में जुट गयी है. आलाकमान ने नया अध्यक्ष बनाने के लिए तलाश शुरू कर दी है. बीजेपी सूत्रों का कहना है कि मनोज तिवारी की जगह अब किसी नए चेहरे को मौका दिया जायेगा. जिसके चलते कई नाम सबसे आगे आ रहे हैं. वहीं खबर ये भी आ रही थी कि दिल्ली में हुए खराब प्रदर्शन के चलते प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी ने इस्तीफे की पेशकश की है.

बीजेपी आलाकमान ने एक तरफ अभी मनोज तिवारी को पद पर बने रहने के लिए कहा है तो वहीं दूसरी तरफ नए अध्यक्ष की तलाश भी शुरू कर दी है. नए अध्यक्ष की तलाश में सबसे पहला पश्चिमी दिल्ली के सांसद परवेश साहिब सिंह वर्मा का नाम आ रहा है. परवेश वर्मा ने युवा होने के साथ पार्टी में हर वर्ग के लोगों में अपनी पैठ बनाई है. विधानसभा चुनाव से पहले भी अमित शाह उनकी तारीफ कर चुके हैं.

गौरतलब है कि दिल्ली में नए प्रदेश अध्यक्ष की रेस में दिल्ली बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष और रोहिणी विधानसभा सीट से लगातार चुनाव जीतने वाले विजेंद्र गुप्ता का नाम भी चर्चा में बना हुआ है. हालाँकि उनका पहला कार्यकल उनको नई जिम्मेदारी के बीच में रोड़ा डाल सकता है. इसी के साथ दिल्ली बीजेपी के कद्दावर नेता राजस्थान से राज्यसभा सासंद विजय गोयल भी इस रेस में शामिल हैं. वहीं पार्टी सूत्रों का कहना ये है कि आलाकमान ऐसे नेता को ये जिम्मेदारी सौंप सकती है जो युवा हो. ऐसे में दो नाम रमेश बिधूड़ी और गौतम गंभीर भी सामने आ रहे हैं.