एयर स्ट्राइक के बाद अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रंप का बड़ा बयान

434

भारत और पाकिस्तान के बीच इस समय युद्ध जैसी स्थिति बनी हुई है, इस तनाव के बीच अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बड़ा बयान दिया है| वियतनाम के हनोई में अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा है कि भारत और पाकिस्तान की तरफ से आकर्षक खबर आ रही है, दोनों के बीच जारी तनाव जल्द ही खत्म हो सकता है. अमेरिका का दावा है कि इस सब में वह मध्यस्थ की भूमिका निभा रहा है.अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, ”मुझे लगता है कि भारत और पाकिस्तान की तरफ से एक आकर्षक खबर आ रही है, दोनों देशों में पिछले काफी समय से तनाव जारी है|हम इस मसले को सुलझाने में हम मध्यस्थता कर रहे हैं, हमें अच्छी खबरें मिल रही हैं| हमें उम्मीद है कि सदियों से चल रहा ये तनाव अब जल्द ही खत्म होगा|

आपको बता दें कि 14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद अमेरिका ने इसकी निंदा की थी और पाकिस्तान को आतंकवादियों के खिलाफ शख्त एक्शन लेने की सलाह दी थी|डोनाल्ड ट्रंप ने तब बयान भी दिया था कि भारत ने अपने कई जवानों को खोया है, ऐसे में वह कुछ बड़ा कर सकता है. जिसके बाद भारत ने पाकिस्तानी सीमा में घुसकर एयरस्ट्राइक की थी|

पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान की सीमा में घुसकर जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी ठिकानों को तबाह किया था. भारत की इस स्ट्राइक से पाकिस्तान के बालाकोट में भारी नुकसान हुआ था| जिसके बाद पाकिस्तानी वायुसेना ने बुधवार को भारतीय वायुसीमा का उल्लंघन किया था| हालांकि, भारत ने पाकिस्तानी विमानों को खदेड़ दिया और उसके एक F16 को ध्वस्त कर दिया|

बुधवार रात को ही राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजित डोभाल ने अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो से बात की थी|दोनों की बातचीत में ये तय हुआ था कि भारत ने आतंकवाद के खिलाफ जो एक्शन लिया है, वह सही है और अमेरिका भारत के साथ खड़ा है|


पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान की जमीं पर आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर भारत की कार्रवाई को अमेरिका ने जायज ठहराया है|सूत्रों के मुताबिक, जैश के आतंकी कैंपों पर भारतीय वायुसेना के हवाई हमले के फैसले का अमेरिका ने समर्थन किया है| भारत की कार्रवाई को लेकर बुधवार की देर रात राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल और अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो की टेलीफोनिक बातचीत हुई और इस दौरान अमेरिका ने भारत के फैसले का समर्थऩ किया| 

अमेरिका ने भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव की स्थिति को देखते हुए दोनों देशों से “संयम बरतने” का आह्वान किया है| वहीं, अमेरिका ने पाकिस्तान से आतंकवादी समूहों के खिलाफ ठोस कार्रवाई करने को कहा है| अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने दोनों देशों के विदेश मंत्रियों के साथ बातचीत के बाद एक बयान में कहा कि हम भारत और पाकिस्तान को संयम बरतने और किसी भी कीमत पर इस तनाव को बढ़ाने से बचने के लिए प्रोत्साहित करते हैं|अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो ने कहा कि ‘मैंने पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी से बातचीत की और उन्हें स्थिति को खराब ना करने और सैन्य कार्रवाई नहीं करने की बात कही है| उन्होंने आगे कहा कि हमने कहा है कि पाकिस्तान वर्तमान तनाव को कम करने और अपनी धरती पर सक्रिय आतंकवादी समूहों के खिलाफ सार्थक कार्रवाई करने की प्राथमिकता पर जोर दे| 

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि हमें उम्मीद है कि जल्द ही भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव खत्म होगा. उन्होंने कहा कि जल्द ही अच्छी खबर आएगी|अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा है कि पिछले कुछ दिनों से दोनों देशों के बीच तनाव के बीच हमारे पास भारत और पाकिस्तान से कुछ अच्छे समाचार हैं| माना जा रहा है कि उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन के साथ बैठक के दौरान हनोई में एक संवाददाता सम्मेलन में डोनाल्ड ट्रम्प की इन टिप्पणियों ने भारतीय और पाकिस्तान के बीच जारी तनाव को कम करने की संभावना जगा दी है|