कांग्रेस नेता जयवीर ने पद्मश्री मिलने का वि’रोध किया तो बद’ले में अद’नान सामी ने कर दी बोल’ती बंद

1740

अभी हाल ही में भारत सरकार द्वारा पद्म श्री पुरुस्कार देने वाले लोगों के नाम का ऐलान किया था. इनमे वो सभी नाम शामिल हैं जिन्होंने किसी न किसी रूप में एक महत्वपूर्ण योगदान दिया है. भारत सरकार ने गायक कलाकार अदनान सामी को भी पद्म श्री पुरुस्कार दिए जाने का ऐलान किया था. उनके नाम के ऐलान के बाद विपक्षी दलों ने विरोध करना शुरू कर दिया.

जानकारी के लिए बता दें अदनान सामी को पद्म श्री दिए जाने के ऐलान के बाद सबसे पहले महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (Mns) ने इसका विरोध किया अब कांग्रेस पार्टी ने भी सरकार पर सवाल उठाना शुरू कर दिया है. कांग्रेस के प्रवक्ता जयवीर शेरगिल ने सवाल उठाते हुए पूछा कि ऐसा क्यों हुआ कि कारगिल युद्ध में शामिल होने वाले सैनिक सनाउल्लाह को घुसपैठिया घोषित कर दिया गया और पाक वायु सेना में अफसर के बेटे को यह सम्मान दिया जा रहा है?

अब कांग्रेस प्रवक्ता के इस सवाल का अदनान सामी ने खुद खुद जवाब देते हुए बोलती बंद कर दी. अदनान सामी ने जवाब में ट्वीट करते हुए लिखा कि पिता की गलतियों की सजा किसी बेटे को नही दी जा सकती, ऐसा किसी कानून में नहीं लिखा है. उन्होंने जयवीर शेरगिल को ट्रोल करते हुए लिखा कि लॉ स्कूल में क्या सीखा है?

इससे पहले एमएनएस की सिनेमा विंग के प्रमुख अमय खोपकर ने भी ट्वीट करते हुए लिखा था कि अदनान सामी मूल रूप से भारतीय नहीं है उनका मानना है कि अदनान को कोई अवार्ड नही दिया जाना चाहिए. उन्होंने लिखा कि हम अदनान को पद्म श्री देने का विरोध करते हैं.

गौरतलब है कि पाकिस्तान के अदनान सामी ने अपना सिंगिंग करियर वहीँ से ही शुरू किया था, जिसके बाद वह साल 2001 में पर्यटक वीजा लेकर भारत आ गये और उन्होंने यहाँ भी अपनी गाने की कला को जारी रखा. अदनान ने साल 2015 में भारतीय नागरिकता के लिए आवदेन किया था जिसके बाद 2016 में उन्हें नागरिकता दे दी गयी.