दिल्ली के दं’गाग्र’स्त इलाकों में ABP गंगा चैनल की ये हरकत देख भड़के लोग, लोगों ने विरोध कर खदेड़ा

2659

नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में हिं’सा तो थम गई लेकिन इसी के साथ प्रोपगैंडा और नैरेटिव बनाने का खेल भी शुरू हो गया है. हालात थोड़े बेहतर होते ही नुकसान का जायजा लेने के लिए हिं’साग्र’स्त इलाकों में मीडिया पहुंची तो वहां उसने अलग ही खेल खेलना शुरू कर दिया. मीडिया एक तरफ़ा रिपोर्टिंग करने लगी जिसका विरोध लोग ही कर रहे हैं. लोगों का कहना है कि मीडिया सिर्फ मु’स्लिम इलाकों के लोगों से ही बात कर रही है और उनके इलाकों में हुए नुकसान को ही दिखा रही है. जबकि नुकसान तो हिन्दू इलाकों में भी हुआ है. लेकिन हमारी सुध लेने कोई मीडिया नहीं आ रहा.

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमे ABP गंगा नाम के चैनल पर लोग पक्षपात पूर्ण रिपोर्टिंग करने के लिए भड़क रहे हैं. लोगों का कहना है कि पक्षपात रिपोर्टिंग नहीं करने देंगे. हुआ ये कि चाँदबाग़ के इलाके में हालात का जायजा लेने के लिए ABP गंगा की टीम पहुंची. वहां एक फिल्म की शूटिंग की तरह रिपोर्टिंग की तैयारी हो रही थी. वहां एक्सप्रेशन(भावनाएं) सेट की जा रही थी कि कैमरे पर कैसे दिखना है. वहां मौजूद कुछ हिन्दू समुदाय के लोगों ने विरोध करना शुरू कर दिया कि पक्षपातपूर्ण रिपोर्टिंग नहीं चलेगी. लोग ABP गंगा के टीम की हरकतों को मोबाइल पर रिकॉर्ड करने लगे. लोगों का कहना था कि घर तो हमारे (हिन्दुओं) के भी ज’ले हैं, नुक’सान तो हमारा भी हुआ है. हमारे इलाके में भी चलो.

अपने पक्षपातपूर्ण रिपोर्टिंग की पोल खुलते देख ABP गंगा की टीम वीडियो बनाने वाले युवा से बद’तमी’जी करने लगती है. उनका मोबाइल तोड़ने की ध’म’की देने लगती है. इस पर युवा कहते हैं कि अगर संविधान ने आपको अधिकार दिया है रिपोर्टिंग का तो हमें भी अधिकार दिया है वीडियो बनाने का. आपको यहाँ से जाना हो तो जाएँ लेकिन यहाँ पक्षपातपूर्ण रिपोर्टिंग नहीं चलेगी. ये वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहे हैं. और ये इस बात का सबूत है कि किस तरह धर्म देख कर प्रोपगैंडा चलाया जा रहा है और नैरेटिव सेट किया जा रहा है.