डिविलियर्स ने लॉर्ड्स के मैदान पर 6 छक्के लगाकर दिखाया फिर से दम

1854

एबी डिविलियर्स मैदान पर हो और चौके-छक्के की बारिश न हो ये तो सम्भव ही नही है. गुरुवार को लॉर्ड्स के मैदान पर डिविलियर्स ने अपनी ताबड़तोड़ बैटिंग से सबको दीवाना बना दिया. दरअसल गुरुवार को इंग्लैंड में टी-20 ब्लास्ट मुकाबले का मैच खेला गया. साउथ अफ्रीका का ये विस्फोटक बल्लेबाज़ मैदान पर उतरा तो किसी ने नही सोचा होगा कि आज चौके छक्के की झड़ी लग जाएगी. क्योकि वैसे भी एबी डिविलियर्स इंटरनेशनल क्रिकेट से सन्यास ले चुके है. ऐसे में वो इतना उम्दा खेलेंगे ये किसी ने नही सोचा होगा.

डिविलियर्स ने मिडिलसेक्स की तरफ से खेलते हुए महज 43 गेंदों पर 88 रनों की धमाकेदार पारी खेली. इस शानदार पारी के दौरान एबी डिविलियर्स ने 6 छक्के और 5 चौके जड़े. उनकी स्ट्राइक रेट 200 से ज्यादा थी.मजे की बातब तो ये थी कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके डिविलियर्स करीब ढाई महीने बाद बैटिंग कर रहे थे. इससे पहले वो इस साल आईपीएल में दिखे थे.

ये मैच उसी पिच पर हो रहा था जहां रविवार को इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच वर्ल्ड कप का फाइनल हुआ था. स्लो पिच के चलते फाइनल में यहां रन बनाना आसान नहीं था. डिविलियर्स ने भी यहां धीमी शुरुआत की. पहले 15 गेंदों पर उन्होंने सिर्फ 17 बनाए. लेकिन इसके बाद उन्होंने एसेक्स के गेंदबाजों की पिंडिया बना दी. आखिरी के 28 गेंदों पर डिविलियर्स ने 61 रन ठोक डाले. अब आपको मैच का परिणाम बता दें एसेक्स ने पहले बैटिंग करते हुए 20 ओवर में 165 रनों का लक्ष्य खड़ा किया. जवाब में डिविलियर्स की ताबड़तोड़ पारी की मदद से मिडिलसेक्स ने ये मैच 16वें ओवर में ही जीत लिया.

ऐसी विध्वंशक पारी खेलने के बावजूद डिविलियर्स ने कहा कि वो पूरी लय में नहीं थे. यानी अगर वो अपने हिसाब से फॉर्म में आ जाए फिर तो किसी भी गेंदबाजों की खैर नहीं है. मिडिलसेक्स का अब अगला मैच मंगलवार को ओवल के मैदान पर है. यानी एक बार फिर से यहां डिविलियर्स की धमाकेदार पारी देखने को मिल सकती है.