मंदिर और सेवा भारती भूखे लोगों को खिला रहे खाना लेकिन आज तक ने क्रेडिट दे दिया केजरीवाल को

1566

सोशल मीडिया पर न्यूज चैनल आअज तक ट्रोल हो रहा है. वजह है उसकी एक फर्जी खबर. दरअसल आअज तक ने अपनी वेबसाईट पर एक न्यूज पब्लिश की कि केजरीवाल के कम्युनिटी किचेन में रोजाना 10 हज़ार लोगों का खाना बन रहा है. इस न्यूज में केजरीवाल सरकार की जमकर वाहवाही की गई. लेकिन ये न्यूज फर्जी थी. जल्द ही इसकी पोल खुल गई और सोशल मीडिया पर आज तक ट्रोल होने लगा.

आज तक ने ‘रोजाना बनता है 10 हज़ार लोगों का खाना. कैसा है केजरीवाल का कम्युनिटी किचेन’ हेडलाइन के साथ एक खबर प्रकाशित की. अपनी खबर में केजरीवाल सरकार की तारीफ़ करते हुए लिखा, ‘कोरोना वायरस से बचाव के लिए केंद्र सरकार द्वारा किए गए 21 दिनों के लॉकडाउन के बाद मजदूरों और गरीबों की भारी भीड़ अपने गाँव को पलायन करने के लिए दिल्ली बॉर्डर पर जमा है. इन्ही मजदूरों के पलायन को रोकने के लिए दिल्ली सरकार ने पूरा जोर लगा दिया है. केजरीवाल सरकार मजदूरों के रहन-सहन के इंतजाम में जुटी है और ऐसे ही एक कम्युनिटी किचेन को झंडेवालान में चलाया जा रहा है.’

दरअसल आज तक ने जिस कम्युनिटी किचेन के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल की जमकर तारीफ की थी वो किचेन दिल्ली सरकार द्वारा नहीं बल्कि झंडेवालान मंदिर और सेवा भारती ट्रस्ट द्वारा चलाया जा रहा है और उसने प्रतिदिन 30 हज़ार लोगों को खाना खिलाया जा रहा है.

लोगों ने आज तक के झूठी खबर की पोल खोल कर रख दी. इसके बाद आज तक ट्रोल होने लगा तो उसने हेडलाइन बदल दी. इस बार उसने केजरीवाल के कम्युनिटी किचेन को बदल कर मंदिर का कम्युनिटी किचेन कर दिया और अन्दर लिखा. ‘पलायन करने वाले मजदूरों की मदद और खाने-पीने के इंतजाम के लिए कई गैरसरकारी संस्थाएं सरकार की मदद के लिए आगे आ रही हैं. जबकि सेवा भारती ट्रस्ट का कहना है कि ये कम्युनिटी किचेन सिर्फ झंडेवालान मंदिर के सहयोग से चल रहा है.