पालघर मामले को लेकर सामने आई च-श्म-दीद महिला, किये बहुत ब-ड़े खु-ला-से

मुंबई से सटे पालघर में अभी हा-ल ही में 2 साधुओं समेत उनके ड्राईवर को भी-ड़ ने घे-रक-र मा-र डा-ला था, जिसके बाद इस वारदात का पूरा वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो गया. वीडियो में पुलि-सक-र्मियों के सामने ही भी-ड़ साधुओं पर वार करती रही लेकिन पुलि-स ने कोई बड़ा कदम नही उठाया. वीडियो वायरल होने के बाद मामले ने ज्यादा तूल पकड़ी तो महाराष्ट्र सरकार जागी.

जानकारी के लिए बता दें इस घ-ट-ना का वीडियो आने के बाद लोगो ने महाराष्ट्र की उद्धव सरकार पर जमकर नि-शा-ना साधना शुरू कर दिया और आरो-पियों के खि-ला-फ सख्त कार्रवाई की मांग उठने लगी. वहीँ सरकार ने एक्शन लेते हुए सख्त कार्रवाई के आदेश दिए और 100 लोगों को गिर-फ्ता-र भी किया गया. ऐसे में अब इस घ-ट-ना को लेकर एक च-श्म-दीद गवाह सामने आई है.

इस महिला ने पालघर में हुई घ-ट-ना को लेकर जो खु-ला-से किये हैं वो आपके हो-श उड़ा देंगे. ये महिला डहाणु इलाके के गाँव गढ़ चिंचले की सरपंच हैं जिनका नाम चित्रा चौधरी. इसी गाँव के पास में ही साधुओं की ली-चिंग हुई थी. चित्रा ने बताया कि शाम तक़रीबन 8:30 बजे पता चला कि चेकपोस्ट पर गाड़ी रोकी गयी. अगले 15 मिनट में वो अपने घर से गाड़ी तक पहुंची. गाड़ी का शीशा बंद था, साधुओं ने उन्हें अंदर से ही नमस्कार किया. सरपंच चित्रा ने साधुओं से पूछा कि वो कौन हैं और उन्हें कहाँ जाना है. इतनी ही देर में भी-ड़ ने साधुओं की गाड़ी के टायर की हवा निकालकर उसे प-लट दिया.

गौरतलब है कि चित्रा ने बताया कि पुलि-स के आने तक वो लोगों को समझाने की कोशिश लगातार कर रही थी इस दौरान लोग उनसे भी नाराज हो रहे थे. उन्होंने बताया कि किसी तरह भीड़ को दो-तीन घंटे भी-ड़ को कुछ हद तक काबू में रखा. रात को 11 बजे पुलि-स मौ-के पर पहुंची तो भी-ड़ से घि-रे तीन लोगों में से 2 को उसने पुलि-स की गाड़ी में भी बैठा दिया था लेकिन बुजुर्ग साधू पुलि-सवा-ले का हाथ पकड़कर forest चौकी से बाहर निकले तो भीड़ डं-डे लाठी लेकर बुजुर्ग साधू पर टू-ट पड़ी. चित्रा ने कहा कि वो लोगों को रोकने की कोशिश भी करती रही उन्हें इस दौरान चोटें भी आई लेकिन लोग नही मानें और फिर वो किसी तरह अपनी जान बचाकर वहां से भागी. रात को 12 बजे के बाद जब वो वहां पहुंची तो वहां तीनों की ला-श पड़ी हुई थी.