राज्यसभा में खाली होंगी 69 सीटें,जानिए कितनी मिलेंगी भाजपा को

2168

आज हम बात करेंगे अपने देश की राज्यसभा के बारे में इसको दूसरे शब्दों में उच्च सदन भी कहते हैं. राज्यसभा से भी भारत की राजनीति चलती है. लोकसभा के अलावा राज्यसभा को भी राजनीति की धुरी माना जाता है. मौजूदा सरकार कोई बिल लोकसभा में पहले लाया जाता है. वहां बिल पारित होने के बाद उसको राज्यसभा में भेजा जाता है और जब दोनों सदनों में बिल पारित हो जाता है तो वो एक कानून बन जाता है और देश में लागू कर दिया जाता है. तभी हमने उपर आपको बताया कि राज्यसभा से भी भारत की राजनीति चलती है.

राज्यसभा की बात करें तो इसमें कुल 250 सदस्य होते हैं जिनमें से 12 सदस्यों को मनोनीत किया जाता है.राज्यसभा में इस साल के अंत तक 69 सदस्यों का कार्यकाल खत्म हो जायेगा और उनकी राज्यसभा की सदस्यता खत्म होगी, इनमें से 18 सदस्य बीजेपी (भारतीय जनता पार्टी) के और 17 कांग्रेस  के हैं. वहीं चार सीटें पहले से खाली पड़ी हैं. इस साल राज्यसभा के 73 सीटों पर चुनाव होंगे. ऐसे में यह जानना दिलचस्प है कि राज्यसभा में बीजेपी की स्थिति कैसी रहेगी. समाचार एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक साल-2020 में अकेले ही राज्यसभा में यूपी की ओर से 10 सीटें खाली होंगी. राज्य में बीजेपी की सरकार है, इसलिए ज्यादातर सीटें उनके खाते में जाएंगी. यहां पर सबसे ज्यादा नुकसान समाजवादी पार्टी को होगा.

वहीँ सत्ता में रहने वाली पार्टी बीजेपी की बात करें तो उसकी भी हालत राज्यसभा में इतनी अच्छी नहीं है.

गौरतलब है कि बीजेपी ने पिछले साल और इस साल मिला कर कई राज्य गँवा दिए हैं और विधानसभा चुनावों के नतीजों का साफ-साफ असर राज्यसभा चुनाव पर होगा. क्योंकि राज्यों का अंकगणित इस बार बीजेपी के खिलाफ जा रहा है. आंकड़ों से साफ है कि बीजेपी अपने सदस्यों की संख्या में इजाफा नहीं कर पाएगी, जिससे राज्यसभा में वह बहुमत से दूर ही रहेगी. अगर कांग्रेस की बात करें तो उसके लिए राज्यसभा में थोड़ी ख़ुशी का मौका है. कांग्रेस की  राज्यसभा में स्थिति बेहतर होगी क्योंकि उसकी और उसके सहयोगी दलों के सदस्यों की संख्या इस बार बढ़ने वाली है. जाहिर है 2018 और 2019 में बीजेपी को कुछ राज्यों में हार का सामना करना पड़ा है, ऐसे में इसका सीधा असर राज्यसभा चुनाव के परिणाम पर होगा.

दूसरी तरफ बात करें कांग्रेस की तो उसके सहयोगी दलों की स्थिति 245 सदस्यीय राज्यसभा में सुधरेगी. फिलहाल बीजेपी के राज्यसभा में 83 और कांग्रेस के 46 सदस्य हैं. समीकरण के हिसाब से राज्यसभा में बीजेपी की संख्या 83 के आसपास बनी रहेगी और सदन में बहुमत की उसकी आस फिलहाल पूरी नहीं हो पाएगी. अब राज्यसभा का ये गणित बेहद दिलचस्प होता जा रहा हैं.