अटल बिहारी वाजपेयी के बगैर पहली बार बीजेपी मना रही है स्थापना दिवस

390

भारतीय जनता पार्टी और उसके कार्यकर्ताओं के लिए आज का दिन अहम है. आज के ही दिन यानी 06 अप्रैल 1980 को इस पार्टी का गठन हुआ था और एक लंबे संघर्ष के बाद आज ये पार्टी विश्व की सबसे बड़ी पार्टी बन गई है..’अंधेरा छंटेगा, सूरज निकलेगा, कमल खिलेगा’ कहने वाले पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के बिना पार्टी पहली बार स्थापना दिवस मना रही है..6 अप्रैल 1980 को अस्ति‍त्व में आई बीजेपी के पहले राष्ट्रीय अध्यक्ष अटल बिहारी वाजपेयी बने थे..साल 2018,16 अगस्त को भारत रत्न और बीजेपी के पहले अध्यक्ष अटल बिहारी वाजपेयी का 93 साल की उम्र में निधन हो गया..लेकिन भले ही वह अब नहीं हैं लेकिन बीजेपी का जब भी जिक्र होगा उसमें पहला नाम अटल बिहारी वाजपेयी का ही होगा..अटल जी के निधन के बाद जब पहली बार बीजेपी का राष्ट्रीय अधिवेशन का आयोजन किया गया..तब सबकी आंखे नम थी..वही बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व बीजेपी अध्यक्ष लाल कृष्ण आडवानी अटल जी को याद करके रो पड़े थे..

आईए जानते है कि बीजेपी की स्थापना कैसे हुई और इसमें अटल बिहारी वाजपेयी की वो भूमिका जो कभी भी भूलाया नहीं जा सकता है..

देश आजाद होने के बाद पहले जनसंघ फिर जनता पार्टी और फिर 6 अप्रैल 1980 को भारतीय जनता पार्टी का गठन हुआ। इसके बाद हर 6 अप्रैल को बीजेपी अपना स्थापना दिवस मनाती है..
एक राजनीतिक दल के रूप में 1984 में पहली बार बीजेपी लोकसभा चुनाव में उतरी और जिसमें पार्टी के खाते में महज 2 सीटें ही आई थी…लेकिन इसके बावजूद भी अटल बिहारी वाजपेयी ने हार नहीं मानी थी..जिसके 5 साल बाद जब 1989 में चुनाव हुए तब पार्टी को 85 सीटें मिली..उसके बाद 1991 में जब चुनाव हुए भारतीय जनता पार्टी को 120 सीटें, 1996 के चुनाव में 161 सीटें पार्टी को मिली..1998 में 182 सीटें और 2014 आते-आते पार्टी ने 282 सीटों के साथ पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई..2 सीटों के साथ जो सफर शुरू हुआ था वह पूर्ण बहुमत तक पहुंच चुका है..इस सफर तक पार्टी को पहुंचाने में अटल बिहारी वाजपेयी के समर्थन को कभी भुलाया नहीं जा सकता हैं..

बतौर राजनेता अटल बिहारी वाजपेयी हर मुमकिन ऊंचाई तक पहुंचे..लेकिन इन सब से भी बढ़कर वो एक अच्छे इंसान थे, जिन्होंने जमीन से जुड़े रहकर राजनीति की और ‘जनता के प्रधानमंत्री’ के रूप में लोगों के दिलों में अपनी खास जगह बनाई थी। एक ऐसे इंसान जो बच्चे, युवाओं, महिलाओं, बुजुर्गों सभी के बीच में लोकप्रिय थे..
आईए हम आपको बताते है कि बीजेपी से अब तक देश को कितने पीएम मिले है..साल 1996 में अटल बिहारी वाजपेयी पीएम बने थे इसके बाद साल 1998 में अटल बिहारी वाजपेयी एक बार फिर प्रधानमंत्री बने,,उसके बाद साल 2014 में पूर्ण बहुमत के साथ नरेंद्र मोदी बीजेपी से प्रधानमंत्री बने..