नोएडा में कोरोना को लेकर बढ़ी दहशत, सामने आया एक और नया मामला

6216


दिल्ली के साथ- साथ पूरे विश्व में कोरोना ने लगभग लोगों को अपनी च’पेट में कर लिया है. इसी को देखते हुए दिल्ली से सटे नोएडा में कुछ दिन पहले भी दो लोगो के अंदर कोरोना पॉजेटिव पाया गया था. जिसमें एक महिला और एक पुरूष के अंदर संक्र’मण मिला था. जिसको देखते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने धारा 144 लगा दी थी. ताकि कोरोना को जितना हो सके रो’का जा सके. लेकिन उसके बावजूद भी लोगो की ला’परवा’ही की वजह से कोरोना फैलता जा रहा है.

नोएड़ा की एक सोसायटी में कोरोना के एक नये मरीज का मामला सामने आया है. जिसको देखते हुए  शासन और प्रशासन ने बड़ा कदम उठाया है. नोएडा की उस सोसायटी को जहां पर कोरोना का एक नया मरीज मिला है. उस सोसायटी  को दो दिन के लिए सील या लॉ’कडा’उन कर दिया गया है. अब न यहां कोई अंदर आ सकेगा, न कोई बाहर जा सकेगा. यह मामला नोएडा सेक्टर 74 की केपटाउन सोसायटी का है. सोसायटी को बंद करने का आदेश डीएम की तरफ से आया है. यह शख्स फ्रांस से लौटा था. लॉकडाउन के दौरान जरूरी सेवाओं की पूर्ति को नहीं रोका जाएगा.

नोएडा में डीएम द्वारा दिये गये आदेश में ये साफ लिखा है कि ‘कोरोना का मरीज मिलने की वजह से सुपरटेक कैपटाउन सोसायटी को पूरी तरह से (आवासीय टॉवर भी) सील किया जाता है. यह लॉकडाउन 21 तारीख को सुबह 10 बजे लगाया गया है और 23 तारीख को शाम 7 बजे तक जारी रहेगा. नोएडा का यह कोरोना का 5वां मामला है.

कोरोना वायरस अपने देश में किसी को नही हुआ है. ये सिर्फ जो लोग बाहर से आयें है और उनकी लापरवाही की वजह से अपने देश के अंदर फैल गया है. दरअसल जो लोग दूसरे देश से आते हैं वो लोग डर की वजह से अपनी जां’च नही करवाते हैं और यही लोग अपने आस पास के लोगो को कोरोना वायरस दे देते है. इसमे लोगो को अपना ध्यान रखना बहुत जरूरी है. जो लोग बाहर से आते हैं और उनको लगता है कि कोरोना के लक्ष’ण नज़र आ रहे है तो वो लोग अपनी जां’च करवायें और अपने को बाकी लोगो से अलग कर लें ताकी दूसरे लोगो तक कोरोना का वायरस ना फैल सके.